हावड़ा में कम नहीं हो रहा राजीव के प्रति रोष

तृणमूल कर्मियों ने कहीं पुतला फूँका तो कहीं नारेबाजी की
सन्मार्ग संवाददाता
हावड़ा : मुकुल राय के तृणमूल में शामिल होने के बाद अब राजीव बनर्जी के पार्टी में शामिल होने की चर्चाएं तेज हैं। कभी वह कुणाल घोष के घर जा रहे हैंतो कभी वह पार्थ चटर्जी के घर जा रहे हैं। वहीं राज्य के पूर्व मंत्री व डोमजूड़ के पूर्व विधायक राजीव बनर्जी के खिलाफ प्रदर्शन का दौर जारी है। लगातार तृणमूल कर्मियों की ओर से विरोध किये जा रहे हैं । इसके अलावा उनके ख‌िलाफ बैनर लगाए जा रहे हैं। वहीं हद तो सोमवार को हो गई जब डोमजूड़ के सलप इलाक़े में राजीव बनर्जी का पुतला फूंक दिया गया और इस दौरान तृणमूल कर्मियों ने उनके ख‌िलाफ नारेबाजी की।
राजीव के ख‌िलाफ निकाला गया जुलूस
सोमवार को ही तृणमूल कर्मियों की ओर से डोमजूड़ की सलप से लेकर आमता रोड तक एक विरोध जुलूस निकाला गया। इसमें तृणमूल कर्मियों के हाथ में पोस्टर और फ्लैक्स थे और राजीव बनर्जी को पार्टी में न शामिल करने की अपील थी। तृणमूल कर्मियों का आरोप है कि चुनाव से ठीक पहले जब मुख्यमंत्री को उनकी जरुरत थी तब उन्होंने विश्वासघात कर के पार्टी छोड़कर विरोधी पार्टी में शामिल हो गए । अब वे वापस तृणमूल में शामिल होना चाहते हैं। इसलिए उन्होंने अनुरोध किया है कि उन्हें पार्टी में दोबारा शामिल न किया जाए क्योंकि भाजपा में शामिल होने के बाद ही राज़ीव बनर्जी ने मुख्यमंत्री के ख़िलाफ़ कई आलोचना की थी। वहीं इस विषय में जब राज्य के पूर्व मंत्री से संपर्क साधने की कोशिश की गई तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया।
तृणमूल ने दिया मंत्री पद
साल 2011 और 2016 में डोमजूड़ विधानसभा क्षेत्र से चुनाव जीतने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राजीव बनर्जी को दो बार मंत्री पद दिया था। साल 2019 में बनर्जी ने अपनी पार्टी बदली और भाजपा में शामिल हो गए।
पार्टी के नेता भी कर रहे हैं आलोचना
पार्टी के कई बड़े नेता भी लगातार राजीव की आलोचना करते आ रहे हैं। सौगत राय ने कहा कि चुनाव से पहले जब मुख्यमंत्री को सबसे ज्यादा जरूरत थी। उस समय उन्होंने पार्टी बदली, ऐसे दलबदलुओं को पार्टी में शामिल करने की आवश्यकता नहीं है। वहीं सांसद कल्याण बनर्जी का कहना है कि राजीव बनर्जी जीरो है । देखा जाए तो एक और तृणमूल की ओर से लगातार विरोध किए जा रहे हैं। वहीं दूसरी ओर यह भी कहा जा रहा है कि जो पार्टी की नेता निर्णय लेगी वे उन्हें स्वीकार होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दोनों हाथ में पिस्तौल लेकर फेसबुक पर तस्वीर किया पोस्ट, पहुंचा हवालात

वाट्स ऐप ग्रुप बनाकर हथियारों की खरीद फरोख्त करता था अभियुक्त सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : दोनों हाथ में पिस्तौल लेकर फेसबुक पर तस्वीर पोस्ट करना एक युवक आगे पढ़ें »

ऊपर