राजरहाट – न्यूटाउन : मतदाताओं की लम्बी कतारें पर जुबान पर ताला, राज क्या है ?

vote

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राजरहाट-न्यूटाउन विधानसभा क्षेत्र यानी एक तरफ गांव तो दूसरी ओर चमकती दुनिया। शनिवार को राजरहाट-न्यूटाउन में पांचवें चरण का मतदान शांतिपूर्ण हुआ। यहां तृणमूल से तापस चटर्जी उम्मीदवार हैं तो भाजपा से भास्कर राय और संयुक्त मोर्चा के उम्मीदवार राज्य के पूर्व मंत्री गौतम देव के बेटे सप्तर्षि देव हैं। शनिवार को मतदान के दिन इस क्षेत्र में मतदाताओं की लम्बी कतारें देखी गयीं लेकिन साथ ही लोगाें की जुबान पर ताला भी था। आखिर क्या राज है लोगों की इस चुप्पी का, ये तो 2 मई को ही पता चलेगा। हालांकि भाजपा उम्मीदवार भास्कर राय ने कहा कि मतदान तो शांतिपूर्ण हुआ, लेकिन अंदर ही अंदर काफी रिगिंग हुई है।
क्या कहा भाजपा उम्मीदवार ने
भास्कर राय ने कहा, ‘वर्ष 2018 के पंचायत चुनाव में टीएमसी ने लोगों का अधिकार छीन लिया था। इस बार यहां कुछ नहीं हुआ, शांतिपूर्ण मतदान हुआ, लेकिन इसके पीछे भी एक साजिश है। 1 से 5 नं. वार्ड जो टीएमसी का है, वहां साइंटिफिक रिगिंग हुई है। कभी किसी को पिता तो कभी किसी को मां बनाकर महिलाएं बूथ में वोट देने ले आ रही थीं। मैंने केंद्रीय बलों से इसकी शिकायत की और कहा कि ये नकली मतदाता हैं। जैसे ही मैंने रोका तो वहां मौजूद महिला भाग गयी। पीला सलवार उन महिलाओं का ड्रेस कोड था। नारायणपुर, बाबलातला, पाताल के बूथों में छप्पा वोट पड़े हैं। इसके अलावा एजेंट को भी डराया गया है। बालीगरी के 219 नं. बूथ में भी यही काम हो रहा था। जहां अल्पसंख्यक अधिक थे, वहां एजेंट को मारकर निकाल दिया गया। इन सबके बावजूद भाजपा यहां से जीतेगी।’
कुछ ईवीएम में आयी गड़बड़ी
राजरहाट-न्यूटाउन के ​शिक्षा निकेतन स्कूल के बूथ में 138 नं. मशीन चुनाव शुरू होने के बाद ही खराब हो गयी थी। इस कारण यहां लगभग एक घण्टे तक मतदान का काम रुक गया था। इसके अलावा 115 नं. बूथ न्यू आदर्शपल्ली क्लब, 112 प्रमोदगढ़ स्कूल समेत अन्य कुछ स्थानों पर भी ईवीएम में गड़बड़ी की शिकायतें मिलीं।
तापस चटर्जी ने दिया वोट, किया बूथों का दौरा
तृणमूल उम्मीदवार तापस चटर्जी ने इस दिन अपना वोट देने के बाद विभिन्न बूथों का दौरा किया। उन्होंने कहा कि मतदान शांतिपूर्ण हुआ है और हमें पूरा भरोसा है कि हम जीतेंगे।
तृणमूल के कैम्प ऑफिस में तोड़फोड़
तापस चटर्जी ने कहा कि पातलघाटा में हमारे कैम्प ऑफिस में तोड़फोड़ हुई है। पार्टी की पूर्व पंचायत अध्यक्ष जहांनारा बीबी के साथ मारपीट भी की गयी। इसके खिलाफ थाने में हमने शिकायत दर्ज करायी है। इसके अलावा सभी जगहों पर शांतिपूर्ण मतदान हुआ।
सड़क पर बैठे सप्तर्षि
छप्पा वोट का आरोप लगाते हुए संयुक्त मोर्चा उम्मीदवार सप्तर्षि देव सड़क पर धरने में बैठ गये। उन्होंने आरोप लगाया कि विधानसभा के कई इलाकों में छप्पा वोट डाला गया है, इस कारण आम लोग अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल के 4 एजेंट बूथ में बैठे थे। हम एजेंट नहीं दे पाये, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि छप्पा पड़ जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऑक्सीजन कालाबाजारी मामला: नवनीत कालरा को तीन दिनों की पुलिस रिमांड में भेजा गया

नई दिल्ली: दिल्ली खान मार्केट में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के आरोपी नवनीत कालरा को दिल्ली की साकेत कोर्ट ने तीन दिन की पुलिस रिमांड में आगे पढ़ें »

ममता बनर्जी के 2 मंत्री सहित 4 नेताओं को मिली जमानत

- सीबीआई की हिरासत की अर्जी खारिज कोलकाताः नारदा स्टिंग ऑपरेशन मामले में गिरफ्तार मंत्री सुब्रत मुखर्जी, मंत्री फिरहाद हकीम, पूर्व मे मेयर  शोभन चटर्जी और आगे पढ़ें »

ऊपर