भवानीपुर में दिन भर दौड़ती रहीं प्रियंका टिबरेवाल

सन्मार्ग संवाददाता
काेलकाता : भवानीपुर के उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार प्रियंका टिबरेवाल के सामने खुद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी खड़ी हैं, लेकिन इसके बावजूद प्रियंका एक इंच की जमीन भी इस दिन छोड़ने को तैयार नहीं हुईं। इस दिन सुबह 5.30 बजे ही प्रियंका टिबरेवाल भवानीपुर कॉलेज में पहुंच गयीं थीं और इसके बाद से वह दिन भर घूमती रहीं। यहां से बूथ – बूथ जाकर उन्होंने एजेंट व कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाया। इस बीच, भवानीपुर के एक खालसा इंग्लिश हाई स्कूल के बूथ से प्रियंका टिबरेवाल ने कथित तौर पर एक फर्जी वोटर को पकड़ा। उन्होंने उक्त युवक से वोटर कार्ड मांगा लेकिन वोटर कार्ड नहीं दिखा पाने की स्थिति में टिबरेवाल ने आरोप लगाया कि वह फर्जी वोटर है। उनकी ओर से आरोप लगाया गया कि उक्त युवक टॉलीगंज विधानसभा का है और यहां फर्जी वोट डालने आया है। तृणमूल पर आरोप लगाते हुए प्रियंका टिबरेवाल ने कहा, ‘मैंने सब कुछ लोगों पर छोड़ दिया है। अगर लोग चाहते हैं तो नंदीग्राम में जो हुआ, वही भवानीपुर में भी होगा।’ इस दिन भाजपा उम्मीदवार सुबह से ही सक्रिय रहीं। एकाधिक बूथों पर जाकर उन्होंने आरोप लगाया कि तृणमूल उनके एजेंट को कहीं बैठने नहीं दे रही। हालांति सत्ताधारी पार्टी ने दावा किया कि सांगठनिक कमजोरी के कारण ही भाजपा बूथों पर एजेंट नहीं दे पायी। इधर, भाजपा की ओर से दावा किया गया कि वार्ड नं. 70, 71, 74 व 82 के विभिन्न बूथों में रिगिंग हुई है।
भाजपा नेता की कार पर हमला, चुनाव आयोग ने तलब की रिपोर्ट
इधर, भवानीपुर के पद्दोपुकुर मोड़ के पास भाजपा नेता कल्याण चौबे की गाड़ी पर हमले का आरोप है। इस दौरान तृणमूल व भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प भी हुई। मामले को शांत करने के लिए पुलिस ने हस्तक्षेप करते हुए भाजपा कार्यकर्ता रगबीर सिंह को हिरासत में लिया। इधर, कल्याण चौबे ने आरोप लगाया कि पुलिस ने उनकी कार में तोड़फोड़ के बाद उनके सहायक को गिरफ्तार किया। घटना को लेकर कल्याण भवानीपुर थाने आए थे, लेकिन पहले तो उन्हें अंदर नहीं जाने दिया गया। कुछ देर बाद कल्याण थाने में दाखिल हुए। उधर, भवानीपुर भाजपा प्रत्याशी प्रियंका टिबरेवाल भी भाजपा कार्यकर्ता को अन्यायपूर्ण तरीके से हिरासत में लेने पर पुलिस के विरोध में थाने पहुंचीं। प्रियंका भी इसका विरोध करने भवानीपुर थाने पहुंचीं लेकिन उन्हें थाने में घुसने नहीं दिया गया। बीजेपी की ओर से पूरे मामले की शिकायत चुनाव आयोग को कर दी गई है। इस संबंध में चुनाव आयोग पहले ही रिपोर्ट मांग चुका है। इधर, इस मुद्दे पर राज्य के मंत्री फिरहाद हकीम ने भाजपा नेता कल्याण चौबे की गिरफ्तारी की मांग की।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

मूल्य वृद्धि के खिलाफ साल्टलेक के बाजारों में ईवी की छापेमारी

कोलकाता : पिछले कुछ दिनों से आसमान छू रहे सब्जियों के दाम को नियंत्रण में लाने के लिए एनफोर्समेंट ब्रांच द्वारा साल्टलेक के कई मार्केट आगे पढ़ें »

ऊपर