आज से महंगे हो जाएंगे प्री पैकेज्ड सामान, व्यापारियों ने दी आंदोलन की चेतावनी

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता: आज यानी सोमवार से चावल, दाल, आटा, पनीर समेत जितने भी प्री पैकेज्ड और प्री लेबल्ड सामान हैं, उन पर 5% जीएसटी लगेगा। यानी आज से ही ये सभी चीजें महंगी हो जाएँगी।इसका व्यापारियों की ओर से पुरज़ोर विरोध जताया जा रहा है। व्यावसायिक संगठनों का कहना है कि केंद्र के इस मनमाने रवैए के ख़िलाफ़ वे आंदोलन करेंगे।
*कैट करेगा राष्ट्रीय आंदोलन*
कन्फ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्ज़ ( कैट) ने जीएसटी काउन्सिल के मनमाने रवैए के ख़िलाफ़ एक देशव्यापी आंदोलन छेड़े जाने की घोषणा की है और माँग की है की जीएसटी कर प्रणाली की नए सिरे से समीक्षा कर क़ानून एवं नियमों को सरल एवं तार्किक बनाया जाए । कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी सी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने बताया कि इस देशव्यापी आंदोलन की शुरुआत आगामी 26 जुलाई को भोपाल से होगी तथा इस राष्ट्रीय आंदोलन में देश के 50 हज़ार से ज़्यादा व्यापारी संगठन भाग लेंगे। देश के प्रत्येक राज्य में व्यापारियों द्वारा अपने राज्य में सघन आंदोलन होगा और सभी राज्यों में बड़ी रैलियाँ होंगी वहीं सितम्बर में दिल्ली में एक बड़ी राष्ट्रीय रैली होगी । उन्होंने यह भी बताया की इस सनदों में ट्रांसपोर्ट, किसान, स्वयं उद्यमी, महिला उद्यमी, छोटे एवं मध्यम निर्माता आदि के राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय संगठनों को भी शामिल किया जाएगा और एक बड़ा मोर्चा इस संघर्ष को देश भर में पूरी ताक़त से लड़ेगा। जीएसटी क़ानून एवं नियमों में पिछले 5 वर्षों में 1100 से अधिक मनमाने संशोधन जीएसटी काउन्सिल की मनमानियों का साक्षात उदाहरण है ।
भरतिया एवं खंडेलवाल ने कहा किदेश की अधिकतम आबादी द्वारा रोज़मर्रा की चीज़ों जैसे पहले टैक्सटाइल, फिर फ़ुटवियर की कर दर में वृद्धि और अब बिना ब्रांड वाले खाद्यान एवं अन्य उत्पादों को जीएसटी कर दायरे में लाना जीएसटी काउन्सिल की सामंतवादी सोच का परिचायक है । एक तरफ़ आम आदमी पर महंगाई का बोझ और बढ़ेगा वहीं दूसरी ओर व्यापारियों पर लगातार कर पालना का बोझ बढ़ जाएगा ।
*6 अगस्त को सीडब्लूबीटीए का प्रश्नोत्तर*
कंफेडरेशन ओफ़ वेस्ट बेंगॉल ट्रेड एसोसिएशन के अध्यक्ष सुशील पोद्दार ने कहा कि प्री पैकेज्ड और प्री लेबल्ड सामानों पर जीएसटी कठिन है, कैल्क्युलेट करना मुश्किल हो जाएगा। खुदरा व्यापारी इसे कैसे लागू करेंगे। हमने इसका विरोध किया, इससे काफ़ी समस्या छोटे व्यापारियों को होगी। कोई गली के मोदी का दुकानदार कहीं से सामान ख़रीदेगा तो उसे जीएसटी देकर ख़रीदना होगा। 6 अगस्त को पूरे डिविज़न में जीएसटी के सरकारी पदाधिकारियों के साथ प्रश्नोत्तर करेंगे ताकि व्यापारी अपनी समस्याओं का हाल कर सकें।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शिक्षा मंत्री से मिला आश्वासन मगर नियुक्तियां कब ?

ब्रात्य बसु ने कहा, ‘कितने शून्य पद, एसएससी को कहा बताने’ सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य के शिक्षा मंत्री ब्रात्य बसु के साथ बैठक में नियुक्ति के आगे पढ़ें »

ऊपर