धर्म के नाम पर राजनीति नहीं होनी चाहिए : ममता

कोलकाता : धर्म के नाम पर राजनीति नहीं होनी चाहिए, बंगाल ऐसी मानसिकता का विरोध करता है। हम सर्वधर्म सहिष्णुता पर विश्वास करते हैं। मानविकता पर विश्वास करते हैं मगर कुछ लोग धर्म के नाम पर राजनीति व हिंसा कर रहे हैं। गुरुवार को राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ये बातें कहीं। दिल्ली से लौटने के साथ ही वे दक्षिणेश्वर मंदिर की स्थापना के 167वें वर्ष की पूर्ति पर थ्रीडी लाइट व साउंड शाे और संग्रहशाला का उद्घाटन करने पहुंची थीं। उन्होंने कहा कि दंगा कोई हिंदू-मुसलमान नहीं करता बल्कि कुछ धूर्त नेता ऐसा करते हैं जिनका दिमाग डस्टबिन समान है। उनके दिल व दिमाग में कोई मानविकता नहीं है। ये ऐसे लोग हैं जो प्रयोजन से अधिक लोभी हैं। उन्हें यह सार्वभौम सत्यता स्वीकार कर लेनी चाहिए कि सब कुछ यहीं रह जाना है। वे कभी भी रुपयों से मानविकता नहीं खरीद पायेंगे। सीएम ने कहा कि हमारा इतिहास और हमारे धर्मग्रंथ मानवता व सहिष्णुता का संदेश देते हैं। यही कारण है कि मैंने हर एक धार्मिक स्थल को प्राथमिकता दी है। जिस मंदिर, आश्रम, धार्मिक स्थल पर विकास की जरूरत पड़ी मैंने वहां काम किया है। उन्होंने इस दिन रानी रासमणि का उल्लेख करते हुए कहा कि वे मातृशक्ति का रूप हैं। उन्होंने ब्रिटिश जमाने में एक लंबी लड़ाई लड़कर बंगाल में मंदिरों, गंगा घाटों का निर्माण किया। धर्म के विकास के लिए हजारों जगहों पर जमीन व भवन दान दिया। उन्होंने धर्म के प्रति विश्वास व मानवता का संदेश देकर हमारा मार्गदर्शन किया अतः इसे ग्रहण कर हमें भी सभी धर्मों का सम्मान करना चाहिए। मानवता को सर्वोपरि रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि दक्षिणेश्वर आज इंटरनेशन डेस्टिनेशन बन चुका है जहां जल्द ही अब हेलिपैड सेवा की भी शुरुआत की जायेगी। उन्होंने इस दिन मंदिर संलग्न बन रहे गेस्ट हाउस के कार्य को पूरा करने के लिए 10 करोड़ रुपये अनुदान की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने कहा कि बंगाल अपने धार्मिक स्थलों के विकास के लिए आत्मनिर्भर है। हमने कभी भी इसके लिए किसी के आगे हाथ नहीं फैलाया और ना ही फैलायेंगे। उन्होंने कहा इस दिन कालीघाट मंदिर के लिए स्काईवॉक व दीघा में जगन्नाथ मंदिर के निर्माण को लेकर एक बार फिर कहा कि यह मेरा सपना है जिसे किसी भी हाल में पूरा करूंगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पिता ने तीन बेटियों समेत बेटे को बनाया हवस का शिकार

पंजाब : पंजाब की रहने वाली एक लड़की ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो डाली है, जिसमें बताया है कि उसके पिता उसके साथ साथ आगे पढ़ें »

ऊपर