साल्टलेक में होटल व गेस्ट हाउस में रहने आये लोगों की जानकारी भी देनी होगी पुलिस को

पुलिस की अनुमति के बाद ही किराये पर रहने के लिए मिलेगा फ्लैट
सभी थानों को अलग सेल बनाने के निर्देश
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : न्यूटाउन शूटआउट काण्ड के बाद किराये पर फ्लैट या घर लेने से पहले किन बातों पर विशेष नजर रखना है, इस संबंध में रविवार को साल्टलेक के 29 नं. वार्ड में एक बैठक की गयी। इसमें निर्णय लिया गया है कि साल्टलेक में फ्लैट किराये पर लेने के लिए पुलिस की अनुमति लेनी आवश्यक हाेगी। पुलिस की ओर से थाने में ही एक टेनेेंट फॉर्म दिया जाएगा। इस फॉर्म को किरायेदार द्वारा भरकर थाने में जमा करना होगा। इसके बाद पुलिस द्वारा वेरिफिकेशन किये जाने के बाद ही फ्लैट किराये पर मिल सकता है। रविवार को विधाननगर पुलिस कमिश्नर सुप्रतिम सरकार ने 29 नं. वार्ड में बीजे ब्लॉक में एक कार्यक्रम के मार्फत निवासियों को बताया कि जो मालिक घर किराये पर देना चाहते हैं, उनका परिचय पत्र लेकर टेनेंट फॉर्म समेत पुलिस के पास जमा देना होगा। इसके बाद पुलिस परिचय पत्र का वेरिफिकेशन करेगी। सब कुछ ठीक रहने पर ही घर किराये पर दिया जा सकेगा। इधर, गेस्ट हाउस और होटलों के क्षेत्र में भी यही नियम कारगर होगा। होटल और गेस्ट हाउस में जो लोग रहने आ रहे हैं, उनका परिचय पत्र और तथ्य लेकर पुलिस के पास जमा देना होगा। पुलिस तुरंत तथ्यों की जांच कर गेस्ट हाउस और होटलों को बता देगी कि जो आ रहे हैं, उन्हें रहने दिया जा सकता है या नहीं। यहां उल्लेखनीय है कि विधान नगर में गेस्ट हाउस और घर किराये पर देने के क्षेत्र में कई तरह की विसंगतियां थीं। इन्हें दूर करने के लिए विधाननगर पुलिस कमिश्नरेट के अधीन सभी थानों को अलग सेल तैयार करने का निर्देश दिया गया है। इस मौके पर विधायक तापस चट्टोपाध्याय, पुलिस कमिश्नर सुप्रतिम सरकार, डीसी बिधाननगर जोन उमेश गणपत खंडावले, एसीपी शांतनु कुवार, बिधाननगर पूर्व थाना के प्रभारी मनी शंकर सेनगुप्ता आदि मौजूद थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सोने की स्थिति का सेहत पर पड़ता है प्रभाव, ऐसे सोने से ठीक हो सकते हैं खर्राटे और पीठ का दर्द

कोलकाता : शरीर को स्वस्थ और सक्रिय बनाए रखने के लिए पर्याप्त मात्रा में नींद लेना बेहद आवश्यक माना जाता है। नींद पूरी न होना आगे पढ़ें »

ऊपर