पीएम की डीएम के साथ बैठक पर गरमायी राजनीति

तृणमूल ने कहा, सीएम करेंगी तय कौन जाएगा कौन नहीं
भाजपा बोली, बैठक में अड़ंगा लगाना ठीक नहीं
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : कोरोना पर रोकथाम के लिए क्या उपाय है और क्या उपाय करने है ? इन तमाम विषयों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 20 मई को राज्य के जिलाध्यक्षों के साथ सीधी बात करने जा रहे है। पीएमओ द्वारा आयोजित इस वर्चुअल बैठक को लेकर बंगाल में राजनीति गरमा गयी है। दरअसल इस बैठक में पीएमओ द्वारा मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को आमंत्रित नहीं किया गया है। इस पर नाराजगी जताते हुए तृणमूल प्रवक्ता और सांसद सौगत राय ने कहा कि अब पीएम कोविड को लेकर बैठक करके क्या करेंगे ? जब उन्हें बैठक करनी थी तब वह बंगाल में चुनावी सभा कर रहे थे। अब मुख्यमंत्री को दरकिनार कर बैठक में जिला के अधिकारियों को बुलाने का क्या मतलब है। ऐसा करके पीएम देश के संघीय ढ़ांचे के साथ अन्याय कर रहे है। सौगत ने कहा कि बैठक में किसे जाना है और किसे नहीं यह मुख्यमंत्री तय करेंगी। दूसरी तरफ भाजपा के राहुल सिन्हा ने कहा कि कोरोना ऐसी भयंकर स्थिति है जिस पर रोकथाम करना सभी की प्राथमिकता है। इस स्थिति में तृणमूल का यह रवैया उचित नहीं है। वैसे भी तृणमूल अच्छे कामों में हमेशा अड़ंगा लगाती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

मोतिहारी में नाव पलटी, 22 लोग डूबे

मोतिहारीः जिले में रविवार को बड़ा हादसा हो गया, बताते हैं कि यहां नाव पलटने से 22 लोग डूब गए हैं, सिकहराना नदी में ये आगे पढ़ें »

ऊपर