बंगाल के विकास को लात मारने नहीं दूंगा – पीएम मोदी

कहा, दीदी मुझे लात मार सकती हैं, मेरा चेहरा उन्हें पसंद नहीं है
भाजपा आयी तो मायेर पूजाे, माटीर तिलक, मानुषेर सोम्मान होबेबीजेपी स्कीम पर चलती है, तृणमूल स्कैम पर
सन्मार्ग संवाददाता
बांकुड़ा/कोलकाता : राज्य में विधानसभा चुनाव जिस तरह करीब आ रहे हैं, उसी प्रकार मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीच जुबानी जंग तेज होती नजर आ रही है। रविवार को बांकुड़ा में भाजपा की सभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी पर जमकर हमला बोला। पिछले 2 दिनों में प्रधानमंत्री ने बंगाल में लगातार 2 सभाएं की। रविवार की सभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी से कहा कि बंगाल के विकास को लात मारने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि दीदी को उनका चेहरा पसंद नहीं है। बंगला भाषा में बोलते हुए पीएम ने कहा कि भाजपा आयी तो मायेर पूजो, माटीर तिलक आर मानुषेर सोम्मान होबे। दीदी जाच्छे, बीजेपी आसछे जैसे नारे भी उन्होंने लगाये और कहा कि भाजपा राज्य में आसोल परिवर्तन लाकर दिखायेगी।
बौखला गयी हैं दीदी, मुझ पर निकाल रहीं गुस्सा
प्रधानमंत्री ने कहा, आज बंगाल की जनता ने तृणमूल को सबक सिखाने की ठान ली है तो दीदी बौखला गयी हैं। वह मुझ पर गुस्सा निकाल रही हैं। तस्वीर में दीदी मेरे सिर पर लात मार रही हैं, मेरे सिर के साथ फुटबॉल खेल रही हैं। आखिर दीदी बंगाल के संस्कार का अपमान क्यों कर रही हैं। मेरा सिर 130 करोड़ लोगों की सेवा में हमेशा झुका रहता है। दीदी, आप चाहें तो मेरे सिर पर लात मार सकती हैं, लेकिन बंगाल के विकास को लात मारने मैं नहीं दूंगा। बंगाल के लोगों के सपनों को लात मारने नहीं दूंगा। गरीबों व आम आदमी को आपको लात मारने नहीं दूंगा। दीदी, आपका किला ढह चुका है।
इसलिए जरूरी है आसाेल परिवर्तन
नरेंद्र माेदी ने कहा कि गत लोकसभा चुनाव में यहां आया था तो दीदी ने रास्ते बंद करवा दिये थे, कुर्सियां हटवा दी थीं। इसके बावजूद यहां की जनता ने भाजपा को जिताया। इसलिए अब 2 मई दीदी जाच्छे। बंगाल के विकास के लिए, राज्य का गौरव बढ़ाने के लिए, ऐसी सरकार के लिए जो गरीबों की सेवा करे, आसोल परिवर्तन जरूरी है। यह आसोल परिवर्तन भाजपा लाकर दिखायेगी।
केवल कुछ लोगों को खुश करना चाहती हैं दीदी
पीएम ने कहा कि दीदी केवल कुछ लोगों को खुश करना चाहती हैं, जिस कारण वह जय श्री राम के नारे से चिढ़ती हैं। उन्होंने कहा कि रामपाड़ा के हर घर से राम निकलता है क्योंकि वनवासी समाज का प्रभु राम के साथ अटूट नाता रहा है। अपने वनवास के दौरान प्रभु राम वनवासी समाज के सखा रहे, संकट मोचक रहे, इसी भाव के साथ यहां के लोग प्रभु राम का नाम लेते हैं, लेकिन तुष्टीकरण और वोट बैंक की राजनीति के कारण दीदी इससे चिढ़ती हैं। दीदी, अगर आप अपना ये असली चेहरा 10 साल पहले ही दिखा देतीं, तो आज आपकी सरकार यहां नहीं होती।
पूरा बंगाल दीदी से कर रहा है सवाल
सीएम पर हमला बोलते हुए पीएम ने कहा, दीदी आप सोचती थीं कि कुछ भी करिये, कोई आपको कुछ नहीं कहेगा। आज पूरा पश्चिम बंगाल आपसे पूछ रहा है कि हर घर जल के लिए केंद्र ने करोड़ों रुपये दिये, लेकिन इसके बावजूद यहां की बहू – बेटियों को पानी के लिए क्यों परेशान होना पड़ रहा है। दीदी, राज्य में उद्योग, नौकरी और निवेश कहां है ? खेतों में पानी क्यों नहीं है, किसान साल में बस एक फसल लेने को क्यों मजबूर है ?
10 सालों में हुई खोखली घोषणाएं
पीएम ने आरोप लगाया कि पिछले 10 सालों में बंगाल में केवल खोखली घोषणाएं की गयीं, जमीन पर कुछ काम नहीं हुआ। दीदी कहती हैं खेला होबे, 10 साल तक लोगों के साथ खेलकर मन नहीं भरा क्या आपका ? पश्चिम बंगाल की जनता ठान चुकी है, इस बार खेला शेष होबे, विकास आरम्भ होबे।
जनता बेहाल, तृणमूल के नेता हुए मालामाल
पिछले 10 सालों में बंगाल की जनता बेहाल और तृणमूल के नेता मालामला हुए। बड़ी गाड़ी और बाड़ी जनता के पैसों से खरीदी गयी। बालू माफिया व कट मनी वालों की कमाई बढ़ी। जितना सवाल पूछता हूं, दीदी उतना गुस्सा करती हैं। दीदी को मेरा चेहरा भी पसंद नहीं है, लेकिन लोकतंत्र में चेहरा नहीं काम के तराजू पर तौल जाता है। मेरा चेहरा आप देखें या नहीं, लेकिन भाजपा के उम्मीदवारों का चेहरा आपको हमेशा याद रहेगा। ऐसे ही चेहरे गरीबों को न्याय दिलायेंगे। भाजपा ने अनुभवी के साथ नये चेहरों पर भी भरोसा जताया है। नयी ऊर्जा और अनुभव मिलकर डबल इंजन की सरकार बनायेंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

विवाद : सुशांत सिंह राजपूत की बायोपिक पर प्रतिबंध की मांग, दिल्ली हाईकोर्ट ने मेकर्स को भेजा नोटिस

मुबंई : दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के जीवन पर आधारित बायोपिक बनाने वाले निर्माताओं को दिल्ली हाई कोर्ट ने नोटिस जारी कर दिया है। आगे पढ़ें »

झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक कंप्लीट लॉकडाउन

रांची: झारखंड में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच सीएम हेमंत सोरेन ने आज मंगलवार को सीएम आवास में बैठक कर बड़ा फैसला लिया है। आगे पढ़ें »

ऊपर