स्वास्थ्य और सफाई के लिए तरस गये वार्ड 22 के लोग

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : निगम चुनाव जिस तरह करीब आ रहा है, ऐसे में उम्मीदवार भी अपने – अपने वार्ड में पूरी ताकत झोंक रहे हैं। हर कोई अपने वार्ड में जीत की उम्मीद लगाये पूरे दमखम के साथ चुनाव प्रचार में उतर रहा है। बात करें मध्य कोलकाता के वार्ड नं. 22 की तो यह वार्ड पिछले कई वर्षों से स्वास्थ्य और सफाई से मरहूम है। वार्ड में घूमने पर कई इलाकों में कूड़ों का अंबार यूं ही दिख जाता है तो वहीं कुछ इलाके ऐसे हैं ​जहां की गली से होकर लोग गुजरते भी नहीं हैं। कारण ये गलियां अब नशेड़ियों का अड्डा बन चुकी हैं।
जहां – तहां पड़ा है कूड़ों का ढेर
वार्ड में जहां-तहां कूड़ों का ढेर पड़ा हुआ है। लोगों का कहना है कि यहां सफाई नहीं करवायी जाती है। बसाक स्ट्रीट में ऐसे ही एक स्थान पर कचरे का ढेर जमा हुआ था। आस-पास के लोगों ने इसे लेकर काफी शिकायतें की। इसके अलावा सीआईटी पार्क के पास बरौदा ठाकुर लेन में भी इसी तरह कूड़े का अंबार देखने को मिल जाएगा। स्थानीय लोगों की मानें तो पार्षद ने साफ-सफाई पर कभी ध्यान नहीं दिया।
ऐसी गली जहां से गुजरना छोड़ दिया लोगों ने
वार्ड 22 के कलाकार स्ट्रीट इलाके में एक ऐसी गली है जहां गंदगी और नशेड़ियों के अड्डे के कारण लोगों ने आना-जाना ही छोड़ दिया। ये गली के. के. टैगोर स्ट्रीट से रतन सरकार गार्डेन स्ट्रीट की ओर जाती है। स्थानीय निवासी रवि गुप्ता ने कहा कि ये गली गंदगी से भरी है जिस कारण यहां से लोग आते-जाते नहीं हैं। यहां आस-पास दुकानें हैं और यहां की सफाई भी नहीं की जाती है। यहां नशेड़ियों का उत्पात काफी अधिक है। पुलिस से शिकायत करने पर पुलिस उन्हें खदेड़ती है, लेकिन फिर वे वापस आ जाते हैं। स्थानीय पार्षद द्वारा इसके लिए कुछ नहीं किया जाता है।
अवैध पार्किंग से नहीं है रिहाई, पार्क भी हैं बदहाल
इस वार्ड में अवैध पार्किंग से भी लोगों को रिहाई नहीं मिल रही है। कलाकार स्ट्रीट में गाड़ियों को बेतरतीब तरीके से पार्क किया गया है। हालत कुछ ऐसी हो गयी है कि लोगों का यहां से गुजरना भी दुभर हो गया है। वार्ड में सीआईटी पार्क, कोठारी पार्क और मुखराम कानोड़िया पार्क हैं, लेकिन पार्कों की हालत भी कुछ ठीक नहीं है। कुछ पार्कों में कपड़े भी सूखने के लिए डाल दिये गये हैं। वहीं शाम होते ही पार्कों में नशेड़ियों की अड्डेबाजी भी चालू हो जाती है।
पहले नहीं थी स्वास्थ्य सेवा की सुविधा, दो अस्पताल विधायक ने खुलवाये
वार्ड में रहने वाले लोगों ने कहा कि इस वार्ड में कोई स्वास्थ्य सेवा की सुविधा नहीं थी। निगम कार्यालय में जाकर वैक्सीन लगवाना पड़ता था, लेकिन जोड़ासांको के विधायक विवेक गुप्ता ने जीत के तुरंत बाद यहां आशाराम भिवानी अस्पताल और मेयो अस्पताल खुलवाया। ये दोनों अस्पताल वर्षों से आम जनता के लिए बंद थे। मेयो में गत 21 जून से वैक्सीन दी जा रही है। वहीं आशाराम अस्पताल गत 26 अगस्त से खुला और अब तक यहां कुल 4,500 लोगों को वैक्सीन दी जा चुकी है। वर्ष 2015 में ये अस्पताल पूरी तरह बंद हो गया था। स्थानीय निवासी डॉ. राजेश कुमार पाण्डेय ने बताया कि इस वैक्सीन सेंटर के पीछे विधायक विवेक गुप्ता की पहल रही जिससे लोग काफी उपकृत हुए। सुधीर कुमार राय ने कहा कि विधायक के पहल पर आसाराम और मेयो अस्पताल में वैक्सीन सेंटर खुला। राजू पाण्डेय ने कहा कि विधायक विवेक गुप्ता द्वारा वैक्सीन सेंटर चालू किया गया। उज्ज्वल पाल ने कहा कि स्थानीय पार्षद की ओर से वैक्सीनेशन सेंटर चालू कराने काे लेकर कोई पहल नहीं की गयी। नमिता साहा का कहना है कि स्थानीय विधायक की भूमिका ही इसमें रही, स्थानीय पार्षद द्वारा इस ओर कोई प्रयास ही नहीं किया गया था। प्रदीप दास और सुशांत घोष ने कहा ​कि वार्ड में वैक्सीनेशन सेंटर विधायक की ओर से ही चालू किया गया, पहले वार्ड में कोई वैक्सीनेशन सेंटर नहीं था। पार्षद द्वारा इसके लिए कुछ नहीं किया गया। अंजू जैन ने कहा कि स्थानीय विधायक द्वारा ही इस ओर पहल की गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एक बार बस करें चीनी से यह उपाय, किस्मत….

कोलकाताः कई लोग जीवन में तरक्की हासिल करने के लिए कड़ी मेहतन करते हैं, पर फिर भी उनका संघर्ष जारी रहता है। इतनी मेहनत करने आगे पढ़ें »

ऊपर