बंगाल के लोगों के पास नहीं है क्रय क्षमता : दिलीप घोष

कोलकाता : बंगाल के लोगों के पास क्रय क्षमता नहीं है यानी वे गरीब हैं। ऐसा ही मानते हैं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष। हालांकि दिलीप घोष को ऐसा क्यों लगता है ? उनका मानना है कि बंगाल के लोग अपने पैसे से घर नहीं बना सकते, चावल नहीं खरीद सकते। रसोई गैस का दाम बढ़ने पर नहीं खरीद सकते। ममता बनर्जी सरकार पर हमला बोलने जाते हुए दिलीप घोष ने बंगाल के लोगों को ही ‘गरीब’ बता दिया।  दिलीप घोष ने ट्वीट किया, ‘पश्चिम बंगाल के लोगों की क्रय क्षमता कम है। इस कारण पेट्रोल, डीजल व एलपीजी का दाम बढ़ने पर इस राज्य में सबसे अधिक चिंता हाेती है।’ उन्होंने लिखा है, ‘यहां व्यवसाय नहीं है, नौकरी नहीं है, उपार्जन नहीं है। यहां आवास योजना के घर सबसे अधिक हैं। मनरेगा के तहत केंद्र सरकार को इस राज्य में सबसे अधिक रुपये देने पड़ते हैं। बंगाल में 500 रुपये के भत्ते के लिए हजारों लोगों को कतार में रहना पड़ता है।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

भाजपा सोच भी नहीं सकती कि ऐसे बड़े नेता आना चाहते हैं तृणमूल में – फिरहाद

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : बाबुल सुप्रियो के बाद और कई बड़े नाम जल्द तृणमूल से जुड़ने जा रहे हैं। ऐसा ही संकेत दिया राज्य के परिवहन आगे पढ़ें »

ऊपर