यात्रियों का दर्द : ‘सीट उखड़ी, सामान हम पर गिरने लगा, ऐसा लगा प्लेन उल्टा हो जाएगा’

कोलकाता : रविवार का दिन, SpiceJet की SG-945 फ्लाइट से कुछ यात्री मुंबई से बंगाल के दुर्गापुर जा रहे थे। सब मंजिल तक पहुंचने ही वाले थे कि एकाएक आए तूफान ने सब बदल दिया। यह प्लेन लैंडिंग से कुछ वक्त पहले एयर टर्बुलेंस का शिकार हो गया, जिसके बाद लगे झटकों में 11 यात्री घायल हो गए। इस डरावने अनुभव ने उनके मन में हवाई सफर के लिए खौफ पैदा कर दिया है।
दुर्गापुर में रविवार को एक प्लेन हादसा हुआ, जिसमें 11 लोग जख्मी हो गए। प्लेन में सवार यात्री अब जिस तरह उस भयानक स्थिति को बयां कर रहे हैं, उससे यही लग रहा है कि एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया। दूसरी तरफ SpiceJet के आधिकारिक बयान और यात्रियों की कही बात में भी फर्क देखने को मिल रहा है।

सामान रखने वाली रैक ही टूटकर यात्रियों पर गिरी
प्लेन में झटके इतने भयानक थे कि सामान रखने वाली रैक ही टूटकर यात्रियों पर गिर गई। रखा सामान गिरने से ही यात्रियों को चोट आई। घायल यात्रियों का इलाज करने वाले डॉक्टर तपन कुमार के मुताबिक, लैंडिंग के दौरान यात्री सीटों के ऊपर मौजूद लगैज कैबिन टूट गया था। इस वजह से उसमें रखा सामान नीचे बैठे यात्रियों पर गिरने लगा। इसकी वजह से ही ज्यादातर यात्री घायल हुए।
डॉक्टर तपन ने यह भी बताया कि एक यात्री की रीढ़ की हड्डी पर गंभीर चोट लगी है। डॉक्टर तपन ने कहा कि उनको एयरपोर्ट अथॉरिटी की तरफ से एयर टरब्यूलेंस की कोई जानकारी नहीं दी गई।
विमान की सीट भी टूट गई थी
जख्मी यात्री मोहम्मद इनामुल अंसारी ने बताया कि लैंडिंग से आधे घंटे पहले की बात है। उनको कुछ हल्के झटके महसूस हुए। फिर कुछ देर बाद बड़े झटके लगने शुरू हुए जिससे उनकी सीट भी टूट गई।
दूसरे जख्मी यात्री ने भी यही बताया कि लैंडिंग से कुछ वक्त पहले उनको झटके लगे। वह बोले कि प्लेन ऊपर-नीचे हिल रहा था। ऐसा लग रहा था कि प्लेन अब पलट जाएगा।
वहीं जख्मी महिला यात्री ने कहा कि लैंडिंग से पहले बाहर तेज बिजली कड़क रही थी। उसी वक्त प्लेन में झटके लगने लगे। महिला बोली, ‘मैंने अपने बेटे से पूछा कि इतने झटके क्यों लग रहे हैं। फिर उन्हीं झटकों की वजह से मैं गिर गई और मुझे चोट लग गई।’
SpiceJet की तरफ से बताया गया है कि दुर्गापुर में हुए प्लेन हादसे में कुल 11 लोग जख्मी हुए हैं। इसमें से 8 यात्री अब डिस्चार्ज हो चुके हैं।
SpiceJet के बयान में आगे कहा गया है कि जिस वक्त हादसा हुआ तब सीट बेल्ट का साइन ऑन था। मतलब यात्रियों को सीट बेल्ट लगाकर रखनी थी। एयरलाइंस का कहना है कि पायलट की तरफ से कई बार अनाउंसमेंट की गई थी कि यात्री सीट पर बैठे रहें और बेल्ट लगाकर रखें।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

लालू के ठिकानों पर हुई छापेमारी को लेकर ममता ने उठाये सवाल, कहा…

कोलकाताः राजद प्रमुख लालू यादव के घर दफ़्तर में हुई रेड पर ममता ने उठाया सवाल, कहा इतने दिन वे जेल में रहे अब इस आगे पढ़ें »

मैं मक्खन पर नहीं, पत्थर पर लकीर खींचता हूं, टोक्यो में प्रवासियों के बीच बोले पीएम मोदी

पहले बांधा हाथ-पैर, फिर मुंह में ठूसा कपड़ा…सास ने ऐसे बचायी जान

ब्रेकिंगः बंगाल में और सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल, सीएम ने घटाया वैट

ब्रेकिंग : अब बिदके सौमित्र

इन तीन बातों के पूरा होते ही ‘दयाबेन’ की शो में हो जाएगी वापसी!

कियारा के एक फोन कॉल से पिघले सिद्धार्थ मल्होत्रा, हुआ पैच-अप, बोले…

बड़ा खुलासाः विक्की कौशल चाहकर भी पूरा नहीं कर सकते है पत्नी कैटरीना का मां बनने का सपना

अब रेस्टोरेंट में खाना होगा सस्ता, ग्राहकों को नहीं देना पड़ेगा सर्विस चार्ज

बिना सर्जरी के महिला के स्तन कुछ महीनों में B साइज़ से DD आकार तक बढ़े, वजह आपको चौका देगी

ऊपर