पंचायत चुनाव का होने जा रहा है शंखनाद, प्रशासनिक तैयारियां शुरू

चुनाव को लेकर तत्पर चुनाव आयोग, जिलों में दी गयी चिट्ठी
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य में अगले साल 2023 में पंचायत चुनाव होने की बात है, लेकिन आयोग अभी से जिस तरह सक्रिय है, उससे माना जा रहा है कि चुनाव अप्रैल से पहले हो सकता है। चुनाव काे लेकर शंखनाद भी होने जा रहा है। प्रशासनिक स्तर पर चुनाव की तैयारियां शुरू हो गयी हैं। चुनाव आयोग ने काम शुरू कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक चुनाव आयोग को चुनाव से पहले पुनर्व्यवस्था और आरक्षण का काम पूरा करना है। चयन संशोधित सूची पर आधारित है। आयोग के मुताबिक इस काम में कुछ जगहों पर ज्यादा समय लगता है। नतीजतन, पूरी चुनाव प्रक्रिया कई बार विलंबित हो जाती है। राज्य चुनाव आयोग ने जिलाधिकारियों को पत्र लिखकर जिले में डिलिमिटेशन और आरक्षण की सूची को अंतिम रूप देने को कहा है। सूत्रों के मुताबिक आरक्षण का काम 16 सितंबर तक तथा ओबीसी जनसंख्या सर्वे का काम 2 सितंबर तक पूरा करने के लिए कहा गया है। वहीं डिलिमिटेशन का काम 12 सितंबर तक करना होगा। इसके साथ ही सोमवार को जिला को लेकर सोमवार को एक वर्कशॉप भी किया जायेगा। बता दें कि इससे पहले 2018 में मई महीने में चुनाव हुआ था। चुनाव आयोग सूत्रों के मुताबिक पंचायत चुनाव को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों के साथ पिछले काफी समय से बैठकें होती आयी हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शिक्षा मंत्री से मिला आश्वासन मगर नियुक्तियां कब ?

ब्रात्य बसु ने कहा, ‘कितने शून्य पद, एसएससी को कहा बताने’ सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य के शिक्षा मंत्री ब्रात्य बसु के साथ बैठक में नियुक्ति के आगे पढ़ें »

ऊपर