मतदान केन्द्र के बाहर वोटरों को कहा गया किस चिह्न पर वोट दें!

हावड़ा : मतदान करने के लिए जा रहे मतदाताओं को पोलिंग बूथ के बाहर ही नकली ईवीएम मशीन दिखाकर बताया जा रहा था कि उन्हें किस चुनाव चिह्न पर वोट देना है। घटना मंगलवार की सुबह जगतवल्लभपुर विधानसभा के जगदापोटा ग्राम की है। यूं तो ईवीएम मशीन मतदान केन्द्र के अंदर रहना चाहिए लेकिन एक नकली ईवीएम मशीन मतदान केन्द्र के बाहर था। मंगलवार को एक ऐसा ही दृश्य हावड़ा के जगतवल्लभपुर विधानसभा केन्द्र के जगदापोटा ग्राम के 161 नं. बूथ के पास देखने को मिला। तृणमूल और भाजपा दोनों ही पक्षों की ओर से डमी ईवीएम मशीन लेकर मतदान केन्द्र के बाहर पार्टी कैंप में मतदाताओं को उनकी पार्टी के चिह्न पर बटन दबाने के लिए दिखाई दिए। दोनों ही पार्टी के समर्थकों के अनुसार मतदाता कौन से चिह्न पर वोट देंगे इसे लेकर जागरुक करने के लिए उनकी ओर से यह व्यवस्था की गयी है। हालांकि किसी भी पक्ष से किसी प्रकार की शिकायत नहीं दर्ज करायी गयी है। मतदान केन्द्र से महज कुछ दूरी पर कैंप ऑफिस में डमी ईवीएण के जरिए मतदाताओं को प्रभावित करने को लेकर तृणमूल और भाजपा नेताओं से सवाल किया गया। इसे लेकर तृणमूल नेता शांति नाथ ने बताया कि इस इलाके के अधिकतर लो किसान है। चुनाव प्रचार के दौरान वे लोग घर-घर नकली ईवीएम मशीन लेकर चुनाव चिह्न के प्रति जागरुक करने गए थे। उस समय कई लोगों से उनकी मुलाकात नहीं हो पायी थी। इसलिए मतदान के दिन यह व्यवस्था की गयी है। स्थानीय भाजनेता ने भी तृणमूल नेता के सूर में सूर मिलाते हुएकहा कि प्रचार के दौररान लोगों से मुसाकात नहीं होने के कारण वे लोग नकली ईवीएम मशीन लेकर लोगों को अपनी पार्टी के चिह्न के प्रति जागरुक कर रहे हैं। जबदोनों पार्टी के नेताओं से चुनाव आयोग के नियमों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि नकली ईवीएमदिखाकर वे लोग किसी तरह के नियमों का उल्लंघन नहीं कर रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

90 ड्राइवरों व गार्ड के संक्रमित होने के बाद लोकल ट्रेनों का संचालन प्रभावित

कोलकाता : पूर्व रेलवे ने मंगलवार को कहा कि 90 ड्राइवरों और गार्ड के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद उसने अभी तक सियालदह आगे पढ़ें »

ब्रेकिंगः नरेंद्र मोदी के संबोधन से जुड़ी हर बात यहां

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री ने देश के नाम पर संबोधन शुरू कर दिया है। आइए जानते हैं संबोधन की मुख्य बातें। मोदी ने कहा, ‘साथियो! अपनी आगे पढ़ें »

ऊपर