महानगर में 2030 तक केवल इले‌क्ट्रिक व सीएनजी परिवहन : फिरहाद हकीम

सरकार का ई-परिवहन पर जोर
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य के परिवहन मंत्री फिरहाद हकीम ने बुधवार को कहा कि कोलकाता में 2030 तक केवल ई-वाहन और सीएनजी वाहन होंगे। उन्होंने”एक्सेलरेटिंग इलेक्ट्रिक मोबिलिटी विद ग्रीन जॉब्स एंड जेंडर पैरिटी” पर एक वर्चुअल पैनल चर्चा के दौरान यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि “2011 से हमारा एक विशेषाधिकार न्यू टाउन कोलकाता को अपनी योजना, दृष्टिकोण, परियोजना निष्पादन और पर्यावरण और सामाजिक जिम्मेदारी में एक स्मार्ट शहर-स्मार्ट बनाना था। बंगाल चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री द्वारा आयोजित पैनल चर्चा के दौरान हकीम ने कहा, यह भारत के 100 स्मार्ट शहरों में से एक है, जो पश्चिम बंगाल और पूर्वी भारत का एकमात्र ऐसा शहर है।
1000 इलेक्ट्रिक बसें जल्द जोड़ेगा परिवहन विभाग
हकीम ने दोहराया कि वर्तमान में लगभग 100 ई-बसें कोलकाता में चल रही हैं। जल्द ही मौजूदा बेड़े में 1000 और ई-बसें जोड़ी जाएंगी। इसके अलावा, राज्य सरकार द्वारा संचालित 300 बसों को भी चरणबद्ध तरीके से शीघ्र ही डीजल से सीएनजी में परिवर्तित किया जाएगा।
अक्टूबर 2019 में, कोलकाता ने सी 40 वर्ल्ड मेयर समिट में शहर की हरित गतिशीलता के लिए प्रतिष्ठित सी 40 पुरस्कार जीते थे। जबकि शहर को हरित ऊर्जा स्रोतों और टिकाऊ प्रथाओं को अपनाने के लिए इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल से प्लैटिनम रेटिंग प्रमाणन पर गर्व है, जिस पर कई पहलें की गई हैं। न्यू टाउन कोलकाता को स्मार्ट, पर्यावरण के अनुकूल और प्रदूषण मुक्त शहर बनाने के लिए कई पहल की गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ब्रेकिंगः ओमिक्रॉन को लेकर महानगर में जारी हुई गाईडलाइन

विदेश से आने वाले यात्रियों के पॉजिटिव मिलने पर एयरपोर्ट से भेजा जाएगा बे‌लियाघाटा अस्पताल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः कोविड के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर एक के आगे पढ़ें »

ऊपर