सभी परिवहन के लिए एक स्मार्ट कार्ड जल्द

नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड अगस्त तक लागू करने की योजना
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः अब एक ही स्मार्ट कार्ड से राज्य में सभी परिवहन का आनंद यात्री ले सकेंगे। इस राज्य में जल्द ही बस-ट्राम-फेरी के लिए अत्याधुनिक स्मार्ट कार्ड उपलब्ध होंगे। वैसे लंबे समय से इस पर चर्चाएं होती रही हैं। हालांकि सूत्रों की मानें तो इस बार इस पर ठोस पहल की योजना है। राज्य परिवहन विभाग (स्मार्ट कार्ड फॉर ट्रांसपोर्ट) के अनुसार, अगले अगस्त से राज्य में नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड उपलब्ध होगा। यह नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) देश के कई राज्यों में पेश किया गया है। इनमें दिल्ली, गोवा, गुजरात, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, तेलंगाना (स्मार्ट कार्ड) जैसे राज्य शामिल हैं। परिवहन विभाग के सूत्रों ने बताया कि अगले अगस्त से इस राज्य में एनसीएमसी कार्ड लॉन्च किया जाएगा। फिलहाल राज्य परिवहन विभाग के पास स्मार्ट कार्ड है। वेस्ट बंगाल ट्रांसपोर्ट कार्पोरेशन (डब्ल्यूबीटीसी) बसों के यात्री नीले-सफेद स्मार्ट कार्ड का उपयोग कर सकते हैं। हालांकि इलेक्ट्रॉनिक टिकट मशीन खराब होने के कारण फिलहाल इस स्मार्ट कार्ड का इस्तेमाल नहीं हो रहा है। राज्य सरकार चाहती है कि नए नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड का इस्तेमाल वेस्ट बंगाल ट्रांसपोर्ट कार्पोरेशन (डब्ल्यूबीटीसी), नॉर्थ बंगाल स्टेट एनबीएसटीसी ट्रांसपोर्ट कार्पोरेशन (एनबीएसटीसी), साउथ बंगाल स्टेट ट्रांसपोर्ट कार्पोरेशन (एसबीएसटीसी) बसों में किया जाए। ट्राम और फेरी पर भी इसे इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए फेयरली, मिलेनियम पार्क जैसे कई जेटी में इलेक्ट्रिक कार्ड या टिकट पंचिंग मशीन भी लगाई गई है।
ऑनलाइन रिचार्ज की भी होगी व्यवस्था
राज्य परिवहन विभाग के अनुसार इस स्मार्ट कार्ड को सभी सरकारी बस डिपो से खरीदा जा सकता है, आप वहां से रिचार्ज कर सकते हैं। ऑनलाइन रिचार्ज कराने की भी व्यवस्था होगी। यह कार्ड न्यूनतम 500 रुपये के साथ उपलब्ध है। लंबी दूरी की बसों के मामले में टर्मिनल डिपो से बस में चढ़ने वाले वहां पंच कर सकेंगे। इसके अलावा बस कंडक्टरों के पास इलेक्ट्रॉनिक टिकट मशीनें भी होंगी। यात्री वहां भी इस स्मार्ट कार्ड का इस्तेमाल कर सकते हैं। ट्राम में भी यही व्यवस्था रहेगी। सभी सरकारी बसों में यह व्यवस्था लागू करने के लिए करीब 3 हजार इलेक्ट्राॅनिक टिकट मशीनें लाई गई हैं। राज्य परिवहन विभाग को इस कार्य में मुंबई के एक परिवहन विशेषज्ञ द्वारा सहायता प्रदान की जाएगी। वे राज्य को 3,000 नई इलेक्ट्रॉनिक टिकट मशीनों की आपूर्ति करेंगे। उनके लिए सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट का काम शुरू हो गया है। इस मशीन के जरिये टिकट पंचिंग की सुविधा के साथ-साथ बस के लोकेशन का भी पता चल सकता है। राज्य परिवहन को गति देने के लिए मेट्रो रेल में भी कार्ड के उपयोग करने की योजना बनायी जा रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शहनाज गिल ने सलमान खान की ‘कभी ईद कभी दीवाली’ को लेकर जारी कंट्रोवर्सी को किया खत्म, शूटिंग शुरू

मुंबईः बिग बॉस 13 फेम शहनाज गिल ने सलमान खान की आने वाली फिल्म की शूटिंग शुरू कर दी है, इसका नाम फिलहाल कभी ईद आगे पढ़ें »

ऊपर