संपत्ति विवाद को लेकर वृद्धा की हत्या

Delhi murder

हावड़ा के दासनगर की घटना
हावड़ा : संपत्ति विवाद को लेकर एक वृद्धा की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। यह घटना दासनगर थानान्तर्गत इलाके की है। बताया जाता है कि वृद्धा तृणमूल की स्थानीय नेत्री थी। उसकी बड़ी बहन का आरोप है कि उसके छोटे भाई के परिवार ने संपत्ति के कारण उसकी हत्या की है और बाद में उसकी मौत का कारण हृदयघात बता दिया। पुलिस के अनुसार वह दासनगर के लावणी इलाके की रहने वाली थी। वृद्धा का नाम बंदना पाकिरा है। गत 2003 में वह हावड़ा नगर निगम के नौ नंबर वार्ड से तृणमूल उम्मीदवार के रूप में चुनाव में खड़ी हुई थी। वह शिवपुर विधानसभा क्षेत्र की महिला तृणमूल की कार्यकारी अध्यक्ष भी थी। वह नटवर पाल रोड के बिमला देवी प्राथमिक विद्यालय में सचिव के रूप में काम की थी। पुलिस के अनुसार गत शुक्रवार की दोपहर तिथितल्ला बाड़ी में उसकी अस्वाभाविक मौत हो गई। स्थानीय लोगों ने बंदना का शव उसके भाई सुब्रत पाकिरा के घर के सामने पड़ा हुआ देखा। परिवार की ओर से दावा किया जा रहा है कि उसकी मौत अस्वस्थता के कारण हुई है, लेकिन उसकी बड़ी बहन अर्चना देवी का आरोप है कि किसी भारी चीज से उसके सिर पर वार किया गया है, जिसके कारण उसकी मौत हुई है। उनका आरोप है कि संपत्ति के कारण उसके भाई के परिवार के पाँच सदस्यों ने मिलकर इस घटना को अंजाम दिया है। प्रत्येक के नाम पर पुलिस में लिखित शिकायत दर्ज की गई है । जब बंदना का शव बरामद किया गया उसके शव पर आघात के कई निशान मिले थे। पुलिस ने अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। अर्चना देवी का आरोप है कि गत 14 अप्रैल को बंदना अपने भाई के परिवार के साथ झगड़ा कर रही थी। आरोप है कि उसी दौरान उससे मारपीट की गई और इस मारपीट की शिकायत उसने दासनगर थाने में भी दर्ज कराई थी लेकिन पुलिस ने इसके खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अस्पतालों में नहीं मिल रहे हैं डोम

युद्धस्तर पर हो रही हैं नियुक्तियां सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः राज्य में कोरोना वायरस के सेकेंड वेव ने स्वास्थ्य परिसेवा की स्थिति खराब सी कर दी है। आलम आगे पढ़ें »

दो श्मशान और एक कब्रिस्तान बना रही है कोलकाता नगर निगम

कोविड शवों की बढ़ती संख्या बढ़ा रही है प्रशासन की परेशानी सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे है। इस आगे पढ़ें »

ऊपर