टिकट के बीच उम्रदराज : तो क्या इस बार कट जायेगा कइयों का टिकट !

कई जिलों में हैं 72 – 80 उम्र के करीब वाले विधायक
हावड़ा में संख्या है अधिक
पार्टी का फैसला मानेंगे – विधायक
कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस इस बार बेहद ही बारीकी से परखकर अपने उम्मीदवारों का चयन कर रही है। इनमें एक कड़ी बढ़ती उम्र का तकाजा भी है। पार्टी इस बार 80 उम्र के पार वालों का टिकट काटेगी। भले ही ऐसे लोग सालों से विधायक हों मगर नियम सभी के लिए बराबर होगा। तृणमूल सूत्रों के मुताबिक यह तय किया गया है कि उम्मीदवारों की सूची से ऐसे वर्तमान विधायकों के नाम हटाये जा सकते है जिनकी उम्र 80 वर्ष या उससे अधिक आयु के हैं। ऐसे में क्या इस बार कई विधायकों का टिकट कट सकता है। जानकारी के मुताबिक कई जिलों में ही कई विधायकों की उम्र 72 – 80 के करीब है। हावड़ा में तो कई विधायक हैं जिनकी उम्र 80 के पार है।
एक नजर 2016 में विधायकों के आयु समूह पर आधारित विश्लेषण
2016 में विधायकों (सभी पार्टी) के आयु समूह पर आधारित विश्लेषण इस प्रकार हैं – 25 – 30 के 3 विधायक, 31 से 40 के उम्र के 32 विधायक, 41 – 50 के 61 विधायक, 51 – 60 उम्र के 89 विधायक, 61 – 70 उम्र के 75 विधायक, 71 – 80 उम्र के 21 विधायक तथा 81 से 100 उम्र का 1 विधायक। यहां उल्लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल इलेक्शन वॉच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स ने पश्चिम बंगाल विधानसभा के 294 में से 282 वर्तमान विधायकों के विभिन्न विवरणों के विश्लेषण के तहत आयु समूह का उल्लेख किया है। वर्तमान में 10 सीटें रिक्त हैं तथा 2 विधायकों के शपथपत्र स्पष्ट नहीं होने के कारण उनका विश्लेषण नहीं किया गया।
कहां ​कितने उम्रदराज वाले हैं विधायक
हावड़ा सदर के विधानसभा क्षेत्रों में से करीब 3 ऐसे विधायक हैं जिनकी उम्र करीब 75 – 80 के आसपास है। 2016 में दक्षिण हावड़ा के तृणमूल उम्मीदवार ब्रजमाेहन मजुमदार की उम्र उस समय 76 थी जो कि अभी 80 पार हो गयी है। वहीं शिवपुर से तृणमूल उम्मीदवार जटू लाहिड़ी की उम्र उस समय 79 के करीब थी। सांकराइल के विधायक शीतल सरदार की उम्र पिछले चुनाव में 74 थी जो पांच वर्ष के बाद 79 है। हुगली जिला के सिंगुर के एक विधायक रवींद्रनाथ भट्टाचार्य 2016 में ही 80 पार कर चुके थे। इधर, बर्दवान दक्षिण के विधायक रविरंजन चट्टोपाध्याय ने खुद ही उम्र का तकाजा देते हुए चुनाव नहीं लड़ने की बात कह दी है। वर्ष 2016 में उनकी उम्र 75 साल थी। हालां​कि विधायक का कहना है कि वे पार्टी का फैसला मानेंगे।
कई मंत्रियों की उम्र 72 से 77 तक
केवल विधायक ही नहीं बल्कि कई मंत्रियों की उम्र 70 के ऊपर है। कई की तो 72 से लेकर 77 तक उम्र है।
युवा और नये चेहरों को मिल सकता है मौका
हाल में तृणमूल की हुई बैठक में तय हुआ है कि जिनकी उम्र 80 साल पार हो चुकी है उन्हें पार्टी टिकट नहीं देने वाली है। इसके विपरीत युवा व नये चेहरों को मौका मिल सकता है। साथ ही तृणमूल हमेशा ही महिलाओं काे प्राथमिकता देती आयी है, ऐसे में यह भी अनुमान है कि तृणमूल की तालिका में महिला प्रार्थियों की चमक दिख सकती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

हावड़ा में लोहे के कारखाने में लगी भीषण आग

हावड़ा : हावड़ा के गोलाबाड़ी थानांतर्गत सलकिया स्कूल रोड में स्थित एक कारखाने में शनिवार की दोपहर अचानक आग लग गई। आग लगने के कारण आगे पढ़ें »

हुगली : डकैती के आरोप में दो गिरफ़्तार

शादीशुदा होकर अफेयर चलाना पड़ेगा भारी, यहां हो रही है सजा देने की तैयारी

अब ड्रोन भी बनाएगी अडाणी की कंपनी

मैंगलोर यूनिवर्सिटी में हिजाब पहनकर आईं स्टूडेंट्स, क्लास में एंट्री करने से रोका

रेपिस्ट के घरवालों से ही समझौता कर रहे थे मां-बाप, दुखी बेटी ने दूसरे कमरे में लगा ली फांसी

राजकोट में पीएम मोदी की रैली

संगमनगरी की गलियों में तपकर गीतांजलि श्री ने जीता साहित्य जगत का सोना

ग्वालियर: सास ने खाना बनाने को कहा, नाराज बहू ने खा ली चूहे मारने की दवा

बीरभूम में दिल दहलाने वाली घटनाः 7 महीने से पति ने नहीं भेजा पैसा, पत्नी ने 3 बच्चों के साथ…

ऊपर