राम का नाम गले लगाकर बोले, गला दबाकर नहीं – नुसरत

कोलकाता : तृणमूल सांसद व अभिनेत्री नुसरत जहां ने ट्वीट कर कहा कि राम का नाम गले लगाकर बोले ना कि गला दबाके। स्वतंत्रता सेनानी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती समारोह में राजनीतिक और धार्मिक नारेबाजी की मैं कड़ी निंदा करती हूं। यह सरकारी कार्यक्रम था। नेताजी सुभाष चंद्र बोस ऐसे नेता थे जिन्होंने बंगाल को उत्पीड़न के खिलाफ लड़ना सिखाया। भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में उनका योगदान हर भारतीय के मन में रहेगा! देश नायक दिवस पर, बंगाल महान नेताजी को नमन करता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

104 डिग्री मिला तापमान तो अंत में ही दे सकेंगे वोट

चुनाव आयोग की कोरोनाकाल में विशेष गाइडलाइन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः कोरोना काल में विधानसभा चुनाव में संक्रमण से बचाव के लिए चुनाव आयोग ने विशेष पहल की आगे पढ़ें »

चुनाव में काले धन का उपयोग न हो, इसके लिए आयकर के नोडल अधिकारी सक्रिय

23 जिलों में नोडल ऑफिसर नियुक्त सन्मार्ग संवाददाता चुनाव की घोषणा के बाद आयकर विभाग रख रहा है पैंनी नजर कोलकाता : बंगाल में चुनावी बिगुल बजने के आगे पढ़ें »

ऊपर