बड़ी खबरः नुसरत जहां की सदस्यता रद्द करने की मांग

कोलकाताः पश्चिम बंगाल के बशीरहाट से तृणमूल कांग्रेस सांसद नुसरत जहां की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। उनकी शादी का मामला अब लोकसभा तक पहुंच गया है। भाजपा की सांसद संघमित्रा मौर्य ने लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला को चिट्ठी लिखकर नुसरत की लोकसभा सदस्यता रद्द करने की मांग की है। संघमित्रा का कहना है कि नुसरत जहां का आचरण अमर्यादित है। शादी के मसले पर उन्होंने अपने वोटर्स को धोखे में रखा है। साथ ही इससे संसद की गरिमा भी धूमिल हुई है। उन्होंने मांग की है कि मामले को संसद की एथिक्स कमेटी को भेजा जाना चाहिए, साथ ही जांच कर नुसरत पर एक्शन लिया जाना चाहिए।

चिट्‌ठी में क्या लिखा?
उत्तर प्रदेश की बदायूं लोकसभा सीट से सांसद संघमित्रा ने चिट्ठी में लिखा, ‘नुसरत जहां ने लोकसभा सदस्य के रूप में शपथ के दौरान अपना नाम नुसरत जहां रूही जैन बताया था। लोकसभा की वेबसाइट पर भी उनके पति का नाम निखिल जैन लिखा है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उनकी शादी के रिसेप्शन में शामिल हुईं थी। किसी को भी नुसरत के निजी जीवन में दखलअंदाजी नहीं करनी चाहिए, लेकिन उनके हालिया बयान का मतलब है कि उन्होंने जानबूझकर संसद को गलत जानकारी दी। उन्होंने मतदाताओं को धोखा दिया।

निखिल और नुसरत की शादी तुर्की में 19 जून 2019 को तुर्की के मैरिज रेग्युलेशन्स के आधार पर हुई थी। जिसके कारण ही नुसरत ने निखिल से अपने सेपरेशन के लिए तलाक का आवेदन देने से मना कर दिया था। नुसरत का कहना है कि तुर्की का कानून भारत में मान्य नहीं है इसलिए उनकी शादी की भी यहां कोई मान्यता नहीं। वे निखिल के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रही थीं।

नुसरत ने निखिल पर अकाउंट से पैसे निकालने का आरोप लगाया था
इसके बाद नुसरत ने निखिल पर अपने अकाउंट से पैसे निकालने का आरोप लगाया था। उन्होंने अपने स्टेटमेंट में कहा था कि वो जो अपने आपको अमीर कहता है, जो कहता है कि मैंने उसका इस्तेमाल किया। उसने मेरे अकाउंट से गलत तरीके से पैसे निकाले। गलत तरीके से मतलब मेरे सेपरेशन के बाद भी उसने रात के वक्त अकाउंट से पैसे निकाले थे। मैंने ये मामला बैंक अधिकारियों के सामने भी रखा है और इसे लेकर जल्द ही पुलिस कम्पलेंट भी फाइल की जाएगी।

निखिल ने आरोप को नकारा
नुसरत के आरोपों का उनके पति निखिल जैन ने जवाब दिया। उन्होने आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए अपनी सफाई पेश की और नुसरत के आरोपों का सिलसिलेवार जवाब दिया था। उन्होंने कहा कि नुसरत के लिए मैंने बहुत कुछ किया। वो हमेशा ही शादी रजिस्टर कराने से इनकार करती रहीं। 2020 से व्यवहार में बदलाव आने लगा था। मुझ पर झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दोनों हाथ में पिस्तौल लेकर फेसबुक पर तस्वीर किया पोस्ट, पहुंचा हवालात

वाट्स ऐप ग्रुप बनाकर हथियारों की खरीद फरोख्त करता था अभियुक्त सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : दोनों हाथ में पिस्तौल लेकर फेसबुक पर तस्वीर पोस्ट करना एक युवक आगे पढ़ें »

ऊपर