नर्सों ने किया खराब व्यवहार, अब ओल्ड एज होम के लोगों को कराना होगा लंच

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः वेस्ट बंगाल क्लिनिकल इस्टेब्लिशमेंट रेग्युलेटरी कमिशन के पास प्रो.अंजन घोष ने अपनी पत्नी कस्तुरी घोष के साथ अस्पताल में खराब व्यवहार को लेकर शिकायत की थी। मामले मिंटो पार्क स्थित बेल व्यू हॉस्पिटल का है। उन्होंने शिकायत में कहा था कि नर्सों ने मरीज के साथ सही व्यवहार नहीं ‌किया। वेस्ट बंगाल क्लिनिकल इस्टेब्लिशमेंट रेग्युलेटरी कमिशन के चेयरमैन जस्टिस असीम कुमार बनर्जी ने अभिनव निर्देश मामले में दिया है। उन्होंने निर्देश में कहा है कि अस्पताल के निकट ही एक ओल्ड एज होम है। होम में रहने वाले लोगों को एक दिन लंच करवाने का निर्देश जस्टिस ने दिया। साथ ही साथ आरोपी नर्सों को भी इसमें रहने को कहा गया है, ताकि उन्हें मानवीयता का आभास हो सके। इसमें अंजन घोष व कस्तुरी घोष को भी आमंत्रित करने को कहा गया है।
आरटीपीसीआर में देरी, अस्पताल को सामाजिक संस्था में 50 हजार देने का निर्देश
किरन शंकर राउत ने हेल्थ कमिशन में आरटीपीसीआर टेस्ट में देरी व अन्य मामले को लेकर शिकायत की थी। मामला दुर्गापुर स्थित हेल्थ प्वाइंट का है। वेस्ट बंगाल क्लिनिकल इस्टेब्लिशमेंट रेग्युलेटरी कमिशन के चेयरमैन जस्टिस असीम कुमार बनर्जी ने कहा कि मामले में जांच के बाद अस्पताल को 50 हजार रुपये एक सेवा प्रतिष्ठान को चिन्हित करके देने का निर्देश दिया गया है। किरन शंकर राउत ने अपने पिता को यहां भर्ती करवाया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आज से हाे सकती है भारी बारिश, फिर कोलकाता में जलजमाव का खतरा

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : एक आपदा मिटते ना मिटते अब फिर बंगोपसागर में चक्रवात गहरा रहा है। इसके असर से आज यानी मंगलवार और कल यानी आगे पढ़ें »

ऊपर