अब किराये पर मिलेगी ट्रेन, 1 करोड़ जमा देकर पूरा हो जायेगा सपना

थीम आधारित पर्यटक सर्किट ट्रेन ‘भारत गौरव ट्रेन’ शुरू
आम लोगों के लिए होगा गेम चेंजर : जीएम
टूर व ट्रेवल एजेंसी को पैंडेमिक से उबारने की कोशिश
कोलकाता : बाइक या गाड़ी नहीं बल्कि अब आप अपने कब्जे में पा सकते हैं पूरी ट्रेन! लेकिन एक निश्चित अवधि के लिए। इसके लिए आपको एक निश्चित सुरक्षा राशि जमा करनी होगी। अगर आप एक करोड़ रुपये की जमानत राशि देते हैं, तो पूरी ट्रेन आपके हाथ में है। यह पैसा प्रति रैक भारतीय रेलवे को देना होता है। कुछ और शर्तों का पालन करना होगा। रेलवे ने थीम आधारित पर्यटक सर्किट ट्रेन भारत गौरव ट्रेन शुरू करने की घोषणा की है। रेलवे ने 190 भारत गौरव ट्रेनें सार्वजनिक-निजी साझीदारी से चलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए 3,000 से अधिक रेल कोचों की पहचान की गई है। यह ट्रेन आपको बस टूर की तरह ही विभिन्न पर्यटन स्थलों तक ले जाएगी। ट्रेन हावड़ा, सियालदह और राज्य के अन्य हिस्सों से भी चलेगी। यह जानकारी शनिवार को पूर्व रेलवे के जीएम अरुण अरोड़ा ने दी। इस ट्रेन को व्यक्तिगत रूप से किराए पर लिया जा सकता है। विभिन्न ट्रैवल एजेंसियां ​​भी आवेदन कर सकती हैं। कॉरपोरेट कंपनियां भी ट्रेनों को किराए पर ले सकेंगी। ट्रेनों को दो साल से दस साल के अनुबंध पर भी किराए पर लिया जा सकता है। एक लाख रुपए से रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है। जीएम ने बताया कि ये ट्रेनें भारत और दुनिया के लोगों को भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत और शानदार ऐतिहासिक स्थानों को दिखाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दृष्टिकोण को साकार करने में मदद करेंगी। जीएम ने कहा कि यह आमलोगों के लिए गेम चेंजर का काम करेगी। इन ट्रेनों का संचालन निजी क्षेत्र और इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईआरसीटीसी) दोनों ही कर सकते हैं। इनके लिए आवेदन आमंत्रित किए गये हैं।
यात्रियों को मिलेगी हर सुविधा : रेल मंत्री ने बताया कि भारत गौरव ट्रेनों के लिए ट्रेन ऑपरेटरों को आकर्षक रियायतें दी जा रही हैं। ऑपरेटरों को यात्रा एवं भ्रमण के सभी तत्वों को शामिल करके सस्ता एवं गुणवत्तापूर्ण पर्यटन का पूर्ण पैकेज मुहैया कराने को कहा गया है जिसमें भोजन, टैक्सी, होटल, प्रवेश शुल्क, गाइड आदि सब कुछ शामिल होगा। उन्होंने यह भी साफ किया कि पैकेज में प्रति व्यक्ति मूल्य तय करने का अधिकार ऑपरेटर का होगा लेकिन विवाद की दशा में रेलवे के पास हस्तक्षेप का अधिकार होगा।
कैसी होगी भारत गौरव ट्रेन : जीएम ने बताया कि एक ट्रेन में मुसाफिरों के लिए लग्जरी, बजट आदि विभिन्न श्रेणियों के 12 से लेकर 20 कोच तक हो सकते हैं। कोचों में थीम के मुताबिक, आंतरिक साज-सज्जा करने एवं ट्रेन के भीतर और बाहर दोनों जगह ब्रांडिंग और विज्ञापन लगाने सहित सभी आवश्यक बदलाव करने की छूट ऑपरेटर को दी जाएगी। भारत गौरव ट्रेन के लिए एक चरण वाली आसान पारदर्शी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया निर्धारित की गई है और रजिस्ट्रेशन शुल्क मात्र एक लाख रुपये निर्धारित किया गया है।
ट्रेन सेवा की कुछ विशेषताएं : इस स्कीम के तहत, आप अपनी मर्जी के मुताबिक ट्रेनों की थीम को चुन सकते है, जैसे गुरु कृपा ट्रेन, जो सिख संस्कृति के महत्वपूर्ण स्थानों को कवर करेगी, रामायण ट्रेन जो भगवान श्रीराम से जुड़े स्थानों से जोड़ेगी। उसी तरह कोलकाता के हेरिटेज को दिखाने के लिए ट्रेन यहां की संस्कृति भी दिखायेगी।
सेवा प्रदाता पर्यटकों को रेल यात्रा, होटल आवास, दर्शनीय स्थलों की यात्रा व्यवस्था, ऐतिहासिक/विरासत स्थलों का दौरा, टूर गाइड आदि सहित सभी समावेशी पैकेजों की भी पेशकश करेगा। पैकेज के आधार पर सेवाएं दी जाएंगी।
वहीं थीम के आधार पर कोचों के इंटीरियर डिजाइन करने के लिए स्वतंत्र होंगे। ट्रेन के अंदर और बाहर दोनों जगह ब्रांडिंग और विज्ञापन की अनुमति होगी।
ट्रेन की संरचना 2 एसएलआर के साथ 14 से 20 कोच होंगे। कोच के प्रकार होंगे 1 एसी, 2 एसी, 3 एसी, एसएल, सीसी, डब्ल्यूसीबी, एसएलआर।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बड़ी खबर : अगले दो से तीन महीनों में तैयार हो जायेगा टाला ब्रिज

कोलकाता : अगले दो से तीन महीनों में टाला ब्रिज तैयार हो जायेगा। लोगों के लिए इस नये ब्रिज को चालू कर दिया जायेगा। शुक्रवार आगे पढ़ें »

ऊपर