अब 7 दिन हुई आइसोलेशन की अवधि, बदली गाइडलाइन

आइसोलेशन खत्म होने के बाद दुबारा टेस्टिंग की जरूरत नहीं
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कई सारे नियमों में बदलाव कर दिए हैं। उसमें सबसे बड़ा बदलाव होम आइसोलेशन को लेकर बनाई गई गाइडलाइन में हुआ है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने हल्के/बिना लक्षण वाले कोरोना रोगियों के होम आइसोलेशन के लिए संशोधित गाइडलाइन जारी की है। मंत्रालय ने कहा, पॉजिटिव होने के 7 दिन और 3 दिनों तक लगातार बुखार नहीं आने के बाद होम आइसोलेशन के तहत रोगी को छुट्टी दे दी जाएगी, साथ ही आइसोलेशन खत्म हो जाएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि होम आइसोलेशन की अवधि समाप्त होने के बाद दुबारा टेस्टिंग की कोई जरूरत नहीं है। स्वास्थ्य मंत्रालय इस बात को लेकर भी चिंतित है कि डेल्टा वेरिएंट ने जितनी तबाही भारत में मचाई, उतनी तबाही दक्षिण अफ्रीका में डेल्टा वेरिएंट से नहीं हुई थी। ऐसे में ओमिक्रॉन भारत में क्या रुख करेगा इस लेकर ऊहापोह की स्थिति हेल्थ एक्सपर्ट में भी है।
होम आइसोलेशन को लेकर नई नीति
बुजुर्ग मरीजों को डॉक्टर की सलाह पर होम आइसोलेशन की अनुमति दी जा सकती है। हल्के लक्षण वाले मरीज घर पर रह सकते हैं। इसके लिए पूरा वेंटिलेशन रहना आवश्यक है। मरीज को ट्रिपल लेयर मास्क पहनने को कहा गया है। मरीज को ज्यादा से ज्यादा लिक्विड लेने की सलाह दी गई है। ऐसे मरीज जो एचआईवी संक्रमित हैं या जिनका ट्रांसप्लांट हुआ हो और कैंसर के मरीज हैं उन्हें डॉक्टर की सलाह के बाद ही होम आइसोलेशन में जाने की इजाजत होगी।
कुछ आवश्यक दिशा-‌निर्देश-
-अगर ओमिक्रॉन के मामले बढ़ते हैं और अस्पतालों पर दबाव पड़ता है, तो बिना लक्षण और हल्के लक्षण वाले मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा जा सकता है
-बुजुर्ग मरीजों को डॉक्टर की सलाह पर होम आइसोलेशन की अनुमति। कोविड से संक्रमित बुजुर्ग मरीज अस्पताल में भर्ती होने के बजाय डॉक्टर की सलाह पर घर पर ही आइसोलेट हो सकते हैं
-हल्के लक्षण वाले मरीज घर में आइसोलेट हो सकते हैं-बिना लक्षण वाले और हल्के लक्षण वाले मरीज होम आइसोलेशन में रह सकते हैं, जिनका ऑक्सीजन लेवल 93% से ज्यादा हो
-आइसोलेशन की अवधि अब 14 दिन के बजाय 7 दिन
-मरीजों को ट्रिपल लेयर मास्क पहनने और ज्यादा से ज्यादा लिक्विड पदार्थ लेने की सलाह
-कोविड से संक्रमित मरीजों को स्टेरॉयड लेने से मनाही
-सीटी स्कैन और चेस्ट एक्सरे भी बिना डॉक्टर की सलाह की मनाही

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

अक्षय-आमिर की फिल्मों को देखने नहीं आ रहे दर्शक, थिएटरों ने उठाया बड़ा कदम

मुंबईः आमिर खान की फिल्म 'लाल सिंह चड्ढा' और अक्षय कुमार की फिल्म 'रक्षा बंधन' के बीच क्लैश का इंतजार दर्शकों को बेसब्री से था, आगे पढ़ें »

ऊपर