अब ये 4 बागी विधायकों को लेकर फैसले पर टिकी है निगाहें, जुलाई में सुनवाई

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : भाजपा की टिकट पर जीत हासिल कर तृणमूल में शामिल होने वाले चार विधायक कृष्ण कल्याणी, सौमेन राय, तन्मय घोष तथा विश्वजीत दास पर भी दलबदल कानून के तहत मामला किया गया है। अब इस मामले की सुनवाई विधानसभा में जुलाई महीने में होगी। हालांकि ये चारों अभी भाजपा में है या तृणमूल में यह साफ कहने से इनकार कर रहे हैं। वहीं भाजपा की तरफ से यह दावा किया गया है कि इन चारों ने भाजपा से दलबदल करके तृणमूल में शामिल हो गये हैं, ऐसे में इनकी सदस्यता खारिज होनी चाहिए। बहरहाल, अभी इस मामले की सुनवाई में समय है।
शुभेंदु पर चारों लगा चुके हैं गंभीर आरोप
पिछले सत्र के दौरान चारों विधायकों ने विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी पर धमकी देने का आरोप लगा चुके हैं। उन्होंने आरोप लगाया था कि शुभेंदु ने सदन के भीतर धमकी दे गये कि आईटी रेड करवायेंगे। हालांकि इस आरोप की प्राथमिक जांच में सही पाया गया है। हालांकि चारों विधायकों द्वारा शुभेंदु अधिकारी पर लगाये गये आरोप पूरी तरह से निराधार हैं। धमकी के आरोप के बाद ही विधानसभा में इन चारों विधायकों की सीट बदल दी गयी है। इन्होंने स्पीकर से सुरक्षा की मांग करते हुए सीट बदलने का आवेदन भी किया था। जैसा कि इतने दिनों तक वे नेता प्रतिपक्ष के दाहिनी ओर प्रखंड की दूसरी और तीसरी पंक्ति में बैठ रहे थे लेकिन अब नेता प्रतिपक्ष के बायीं ओर तीसरे ब्लॉक में सीटें दी गई हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पूर्व जादवपुर में महिला की गला घोट कर हत्या

कोलकाता : महानगर में एक महिला की घर के अंदर गला घोट कर हत्या कर दी गयी। घटना पूर्व जादवपुर थानांतर्गत चितकालिकापुर इलाके में स्थित आगे पढ़ें »

ऊपर