अब कोलकाता में मिला नयी प्रजाति का मच्छर जो…

एडीज विटेटस मच्छर एशिया, अफ्रीका, मध्य पूर्व, दक्षिणी यूरोप, उत्तर और दक्षिण अमेरिका सहित पूरी दुनिया में फैले हुए हैं
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः मच्छरजनित बीमारियों का प्रकोप बढ़ता जा रहा है। इस बीच कोलकाता नगर निगम सूत्रों के अनुसार गत जनवरी से अगस्त के मध्य तक शहर के ढाई हजार से अधिक निवासी मलेरिया की चपेट में आ चुके हैं। कोलकाता नगर निगम के नए अवलोकन ने इस स्थिति में भय पैदा कर दिया है। नगर निगम के सूत्रों के अनुसार शहर में एडीज विटेटस नाम के एडीज मच्छर की एक नई प्रजाति पाई गई है। एडीज विटेटस के काटने से डेंगू और चिकनगुनिया के वायरस इंसानों में फैल सकते हैं। ये मच्छर यलो फीवर और जीका वायरस के वाहक भी हैं। कोलकाता नगर निगम के सूत्रों के अनुसार, पिछले साल के अंत में दक्षिण कोलकाता में एडीज विटेटस प्रजाति के मच्छरों के लार्वा पाए गए थे। कोलकाता नगर निगम के एक कीट विज्ञानी देबाशीष मानते हैं, ‘ऐसा नहीं है कि यह मच्छर नया है। शायद वह पहले से ही कोलकाता में था, लेकिन इसकी पहचान के लिए कोई बुनियादी ढांचा नहीं था। लेकिन अब यह इंफ्रास्ट्रक्चर हमारी लैब में है। मैंने अब तक एडीस एजिप्टस, एडीज एल्बोपिक्टस देखा है। विटेटस डेंगू और चिकनगुनिया फैला सकता है। यह जीका फैलाने में भी सक्षम है।’ कीट विशेषज्ञों का कहना है कि एडीज विटेटस मच्छर एशिया, अफ्रीका, मध्य पूर्व, दक्षिणी यूरोप, उत्तर और दक्षिण अमेरिका सहित पूरी दुनिया में फैले हुए हैं। वे पूरे वर्ष प्रजनन कर सकते हैं और खराब मौसम में भी प्रजनन कर सकते हैं। इस स्थिति में, कोलकाता नगर निगम मच्छर जनित बीमारियों की घटनाओं को कम करने के लिए स्वच्छता पर जोर दे रहा है। इसके अलावा, मच्छरों की नई प्रजातियों के बारे में अधिक विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के लिए लार्वा संग्रह पर जोर दिया जा रहा है। इस बारे में पूछे जाने पर कोलकाता म्युनिसिपल बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के सदस्य अतिन घोष ने कहा कि मच्छर जनित बीमारियों की रोकथाम से जुड़े हर मुद्दे पर नगरनिगम की नजर है। स्थिति को समझने के बाद आवश्यक कदम उठाए जाएंगे, लेकिन फिलहाल घबराने की जरूरत नहीं है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

मिनी भारत है भवानीपुर, यहीं से शुरू होगी दिल्ली की लड़ाई : ममता

कहा : निष्पक्ष चुनाव हुआ होता तो 30 सीट भी न जीत पाती भाजपा 6 महीने में विधायक बनना जरूरी, इसके बिना सीएम पद उचित नहीं लोगों आगे पढ़ें »

ऊपर