लूमटेक्स जूट मिल में नो वर्क-नो पे की नोटिस

टीटागढ़ : दुर्गापूजा पर 3 दिनों की छुट्टी के बाद मंगलवार को खुली टीटागढ़ की लूमटेक्स जूट मिल गेट पर श्रमिकों के प्रदर्शन व उनके काम छोड़कर निकल जाने के बाद प्रबंधन पक्ष ने गेट पर नो वर्क-नो पे की नोटिस लगा दी। प्रदर्शनकारी श्रमिकों का नेतृत्व कर रहे ओम प्रकाश ठाकुर ने बताया कि सुबह जब वे मिल में काम करने पहुंचे तो पाया कि मिल के एक हिस्से को बार्डर बनाकर अलग कर दिया गया है। इस बाबत पूछे जाने पर प्रबंधन की ओर से उन्हें कोई जवाब नहीं मिला।

मजदूरों को धमकाकर भगान के बाद लगायी नोटिस

ठाकुर ने आरोप लगाया कि मिल के इस हिस्से को प्रबंधन अलग कर वहां प्रमोटिंग अथवा एक अन्य मिल कॉन्ट्रैक्टर के जरिये चलाने की फिराक में है और प्रशासन की बिना जानकारी के ऐसा किया गया है। उन्होंने आरोप लगाया प्रबंधन अधिकारियों ने उन्हें जवाब देने के बजाय मजदूरों को धमकाकर भगा दिया, जिससे गुस्से में आकर श्रमिक वहां से निकल गये। उन्होंने आरोप लगाया कि इसके बाद ही मिल में नो वर्क-नो पे की नोटिस लगा दी गयी है।

कुछ लोग श्रमिकों को गलत जानकारी देकर भड़का रहे हैं : प्रबंधन सूत्र

वहीं प्रबंधन सूत्रों का कहना है कि प्रबंधन अधिकारियों की सुरक्षा व कार्यसुविधा के लिए उस हिस्से में दीवार खड़ी की गयी है, जिससे श्रमिकों का कोई नुकसान नहीं है, मगर कुछ लोग श्रमिकों को गलत जानकारी देकर भड़का रहे हैं। उन्होंने कहा कि मिल के सभी श्रमिकों को सही समय पर वेतन व बोनस का भुगतान किया गया है और पूजा पर छुट्टी भी दी गयी। मंगलवार को मिल में काम करने आये श्रमिकों ने कुछ लोग के भड़काने पर काम बंद कर दिया, जिस कारण ही बाध्य होकर यह नोटिस लगायी गयी है। मालिक पक्ष का अपनी जमीन पर कहां क्या करेगा यह उसका अधिकार क्षेत्र है। कर्मचारी वेतन और काम से ही मतलब रख सकते हैं जूट मिल के मालिकाना हक पर नहीं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शास्त्री को रोहित की चोट के बारे में कोहली को बताना चाहिये था : गंभीर

नयी दिल्ली : भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर का मानना है कि रोहित शर्मा की चोट को लेकर भारतीय टीम प्रबंधन और चयनकर्ताओं आगे पढ़ें »

अपने आपको मोटापे से दूर रखना है तो…

आज के इस वैज्ञानिक युग में शारीरिक श्रम कम ही व्यक्ति करते हैं। मानसिक श्रम ही आज के मनुष्य की जिंदगी बन गई है। इस आगे पढ़ें »

ऊपर