उत्तर 24 परगना में सबसे बड़ा वोट रफिकुल इस्लाम को

बनगांव दक्षिण सीट पर रहा वोटों का सबसे कम अंतर
मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक को भी करनी पड़ी जीत के लिए काफी मशक्कत
बारासात : उत्तर 24 परगना जिले की 33 सीटों में 28 सीटों पर तृणमूल ने झंडे गाड़े हैं। इस बार चुनाव में कई तृणमूल उम्मीदवारों की झोली में भर-भरकर वोट भी आयें हैं। बशीरहाट और बारासात अंचल के कुछ तृणमूल उम्मीदवारों को लाखों वोट मिले हैं जिसमें सबको पीछे छोड़ते हुए बशीरहाट उत्तर सीट के तृणमूल उम्मीदवार रफिकुल रहमान मंडल ने जिले में बाजी मारी है। उन्हें कुल 1,37,216 वोट मिले हैं। वहीं इस सीट पर ही जिले में वोटों का अंतर भी सबसे ​अधिक है। तृणमूल उम्मीदवार ने अपने निकटतम आईएसएफ प्रतिद्वंद्वी मोहम्मद वैजीद आमीन को 89,351 वोटों से हराया है। यहां बता दें कि इस सीट पर गत बार माकपा उम्मीदवार के तौर पर रफिकुल इस्लाम ने तृणमूल उम्मीदवार एटीएम अब्दुल्ला को हराया था और इस सीट पर अपना वर्चस्व कायम किया था हालांकि इस बार उन्होंने पार्टी परिवर्तन किया और दीदी की टीम में शामिल होकर भाजपा व संयुक्त मोर्चा से मुकाबला करने उतरे। उन्होंने जिले में सबसे बड़ी जीत हासिल करते हुए एक बार फिर साबित कर दिया है कि यहां चलेगी तो उन्हें की है। वहीं तीसरी बात को इस सीट पर रोचक रही वह यह थी कि यहां आईएसएफ व भाजपा में भी कड़ा मुकाबला हुआ। जहां आइएसएफ उम्मीदवार 478665 वोट मिलें वहीं भाजपा उम्मीदवार नारायण मंडल की झोली में 47505 वोट आये अतः देखा जाये तो यहां लोगों के किये गये भारी मतदान का नतीजा ही यहां के चुनाव के परिणाम में देखने को मिला है। वहीं रफिकुल इस्लाम मंडल के बाद ही हाड़वा के पूर्व विधायक व तृणमूल उम्मीदवार हाजी नुरुल इस्लाम की झोली में सबसे अधिक वोट आये हैं। उन्हें कुल 1,30,398 वोट मिले हैं जबकि निकटवर्ती आईएसएफ उम्मीदवार कुतुबुद्दीन फत्ते से वोटों का अंतर 80,978 रहा। कुतुबुद्दीन फत्ते को 49,420 वोट मिले हैं। जिले में एक लाख से अधिक वोट पाने वाले उम्मीदवारों में मध्यमग्राम के तृणमूल उम्मीदवार रथिन घोष, देगंगा की तृणमूल उम्मीदवार रहीमा मंडल, राजारहाट न्यूटाउन के तृणमूल उम्मीदवार तापस चटर्जी, बारासात के तृणमूल उम्मीदवार चिरंजीत चक्रवर्ती, मिनांखा की तृणमूल उम्मीदवार उषारानी मंडल, संदेशखाली के तृणमूल उम्मीदवार सुकुमार महतो, बशीरहाट दक्षिण के तृणमूल उम्मीदवार डॉ. सप्तर्षी बनर्जी, हिंगलगंज के तृणमूल उम्मीदवार देवेश मंडल, बागदा के भाजपा उम्मीदवार विश्वजीत दास, गायघाटा के भाजपा उम्मीदवार सुब्रत ठाकुर, बादुड़िया के तृणमूल उम्मीदवार काजी अब्दुर रहीम का नाम शामिल है। रथिन घोष को 1,12,741, रहीमा मंडल को 1,00,105, तापस चटर्जी को 1,27,374,चिरंजीत चक्रवर्ती को 1,04,431, उषारानी मंडल को 1,0,9818, सुकुमार महतो को 1,12,450, सप्तर्षी बनर्जी को 1,15,873, देवेश मंडल को 1,0,4706, विश्वजीत दास को 1,0,8111, सुब्रत ठाकुर को 1,00,808, काजी अब्दुर रहीम को 1,0,9701 वोट मिले हैं। काजी अब्दुर रहीम ने इस बार कांग्रेस छोड़कर तृणमूल से उम्मीदवारी की थी। बैरकपुर शिल्पांचल की सभी 14 सीटों पर ही किसी भी राजनीतिक पार्टी के उम्मीदवार ने लाख का आंकड़ा पार नहीं किया। वहीं जिले में सबसे कम वोटों को अंतर बनगांव दक्षिण विधानसभा सीट पर देखने को मिला। इस सीट पर भाजपा के स्वप्न मजुमदार ने महज 2,004 वोटों से जीत हासिल की है। यहां भाजपा उम्मीदवार का तृणमूल उम्मीदवार आलोरानी सरकार से कड़ा मुकाबला हुआ। वोट गढ़ना में पहले तो आलोरानी आगे रहीं मगर कुछ घंटों के बाद ही बाजी पलटी और वोट इनकी झोली में गिरने लगे। भाजपा उम्मीदवार स्वप्न मजुमदार को कुल 97,828 वोट जबकि तृणमूल की निकटतम उम्मीदवार आलोरानी सरकार को कुल 95824 वोट मिले। वहीं सबसे कम वोटों के अंतर की बात करें तो जिला तृणमूल अध्यक्ष व राज्य के पूर्व मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक को भी इस बार जीत बड़ी मशक्कत के बाद मिली है। वे अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी भाजपा के राहुल सिन्हा से महज 3841 वोटों से जीते। यह जीत और यहां भाजपा की हार दोनों की ही जिले के राजनीतिक माहौल में चर्चा जारी है। तृणमूल उम्मीदवार ज्योतिप्रिय मल्लिक को कुल 90,533 वोट मिले जबकि राहुल सिन्हा के खाते में 86,692 वोट आये।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऑक्सीजन कालाबाजारी मामला: नवनीत कालरा को तीन दिनों की पुलिस रिमांड में भेजा गया

नई दिल्ली: दिल्ली खान मार्केट में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के आरोपी नवनीत कालरा को दिल्ली की साकेत कोर्ट ने तीन दिन की पुलिस रिमांड में आगे पढ़ें »

ममता बनर्जी के 2 मंत्री सहित 4 नेताओं को मिली जमानत

- सीबीआई की हिरासत की अर्जी खारिज कोलकाताः नारदा स्टिंग ऑपरेशन मामले में गिरफ्तार मंत्री सुब्रत मुखर्जी, मंत्री फिरहाद हकीम, पूर्व मे मेयर  शोभन चटर्जी और आगे पढ़ें »

ऊपर