मतगणना केंद्र के 100 मीटर के अंदर किसी वाहन का प्रवेश नहीं

काउंटिंग एजेंट की कोविड निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः कोरोना वायरस के सेकेंड वेव के बीच मतगणना करवाना भी चुनाव आयोग के लिए 2 मई को बड़ी चुनौती होगी। राज्य के सभी मतगणना केंद्रों पर कोविड प्रोटोकॉल के पालन को लेकर के चुनाव आयोग प्रतिबद्ध है। साथ ही इसके लिए विशेष प्रबंध चुनाव आयोग की ओर से किया गया है। चुनाव आयोग की तरफ से इस सिलसिले में पहले ही कई आवश्यक दिशा निर्देश भी जारी किया जा चुका है। चुनाव आयोग के सूत्रों की मानें तो मतगणना केंद्र के 100 मीटर के दायरे में किसी भी वाहन को अनुमति नहीं होगी।
वोटों की गिनती के लिए सख्त नियम मतगणना केंद्र पर रहेगा। ऐसे में पहले की अपेक्षा इस बार मतगणना केंद्रों की चिर परिचित तस्वीर बदली नजर आएगी। चुनाव आयोग वोटों की गिनती के बारे में विशेष रूप से सावधान है। सभी व्यवस्था कोविड नियमों के अनुसार की गई हैं। कोविड को देखते हुए काउंटिंग हॉलों की संख्या बढ़ा दी गई है। यह निर्णय एक कमरे में कम संख्या में टेबल रखने को लेकर है। मतगणना केंद्र में त्रिस्तरीय सुरक्षा क्षेत्र है।
रविवार यानी कि, 2 मई को 292 विधानसभा क्षेत्रों (समशेरगंज और जंगीपुर को छोड़कर) उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा। हर बार राजनीतिक दलों के नेता और कार्यकर्ता मतगणना के बाद विजय जश्न मनाते हैं, हालांकि इस बार इस पर प्रतिबंध है।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) आरिज आफताब ने साफ कहा है कि कोरोना वायरस की गाइडलाइन का पालन करना अनिवार्य है। मतगणना की पूरी प्रक्रिया संचालित करने के लिए आयोग की ओर से ठोस इंतजाम मतगणना केंद्रों पर किए गए हैं। मतगणना केंद्र के अंदर टेबल की संख्या भी इस बार बढ़ाई जा रही है, ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा सके। राज्य के 108 मतगणना केंद्रों के अंदर ही कोविड प्रोटोकाल को लेकर आयोग सख्त रहेगा। इसके लिए राजनीतिक दलों के प्रत्याशियों से लेकर काउंटिंग एजेंट व मतगणना से जुड़े कर्मियों को आवश्यक दिशा-निर्देश पहले ही बताए जा चुके हैं। काउंटिंग एजेंट की कोविड निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य है।
हर घण्टे सैनिटाइजेशन
चुनाव आयोग के सूत्रों ने बताया कि मतगणना प्रक्रिया के दौरान हर घण्टे ही सैनिटाइजेशन अभियान चलेगा। इसके लिए विशेष व्यवस्था की गई है।
इस पर भी नजर
-15 राउंड कम से कम
-25 राउंड अधिक से अधिक
-सबसे अधिक मतगणना केंद्र- दक्षिण 24 परगना-15 गणना केंद्र
-सबसे कम मतगणना केंद्र -कलिम्पोंग,अलीपुरद्वार , झाड़ग्राम-1-1
-कुल मतगणना केंद्र- 108
-कुल ऑब्जर्वर-292
-मतगणना केंद्र में ईवीएम स्ट्रांग रूम में लाने से पहले सैनिटाइजेशन
-256 कंपनी अर्द्धसैनिक बल

शेयर करें

मुख्य समाचार

अगर आपका भी होता रहता है अपमान तो रविवार के दिन करें ये अचूक उपाय

कोलकाता : अगर किसी व्यक्ति को घर-परिवार या समाज में मान-सम्मान नहीं मिलता है तो इसके पीछे ज्योतिषीय कारण भी हो सकते हैं। कुण्डली में आगे पढ़ें »

पूरे सप्ताह के साप्ताहिक राशिफल पर एक नजर

दिनांक 16 से 22 मई 2021 तक डॉ. मंगल त्रिपाठी ग्रह संचरण- सूर्य, शुक्र, बुध और राहु वृष में, मंगल मिथुन में, केतु वृश्चिक में, शनि और आगे पढ़ें »

ऊपर