अभी नहीं चलेंगी निजी बसें

कोलकाता : 1 जून से लॉकडाउन खुलने की शुरुआत हो जाएगी और 8 से काफी हद तक राहत मिल जाएगी, लेकिन बंगाल के लोगों के लिए बुरी खबर है कि अभी निजी बसें सड़कों पर नहीं उतरेंगी। संकट केे इस काल मेंं भी निजी बस के संगठनों को अपना मुनाफा नजर आ रहा है और वे राज्‍य सरकार को किराया बढ़ाने पर मजबूर करना चाहते हैं। निजी बस वालों के संगठनों की बैठक विफल हो गई, जिस कारण 1 जून से निजी बसों के सड़कों पर उतरने की संभावना खत्‍म हो गई है। निजी बस वालों के संगठन अब राज्‍य सरकार को ज्ञापन सौंपेंगे, जिसमेंं किराया बढ़ाने की मांंग दोहराई जाएगी। बताते चलेंं कि बस संगठनों की मांग है कि अलग कमेटी गठित हो और वे किराये में वृद्धि की मांग पर अड़े हुए हैं।

राज्‍य सरकार ने उनसे अपील की थी कि किराया बढ़ाने की मांग पर अड़ने की बजाय उन्‍हें लोगों को हो रही परेशानी के बारे में सोचना चाहिए, लेकिन वे नहीं मान रहे।

बसों की कमी से परेशानी

राज्‍य में बसें चलने तो लग गई हैं, लेकिन बसोंं की कमी के कारण कोलकाता के लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। शनिवार को ट्रैफिक पुलिस ने सोशल डिस्‍टैंसिंग का हवाला देकर बसों में अधिक संख्‍या में चढ़े यात्रियों को उतार दिया था, इसके बाद अनेक जगह लोगों को लंबे इंतजार के बाद भी बसें नहीं मिल पाई क्‍योंकि बसों की संख्‍या कम है और उनमें यात्री भी सीमित संख्‍या में ही चढ़ाए जा रहे हैं। इसी कारण कई जगह विराेध प्रदर्शन की भी नौबत आ गई थी। टैक्‍सी वाले भी बहुत कम संख्‍या में टैक्‍सी चला रहे हैं और जो चला रहे हैं वे भी मनमाना किराया मांग रहे हैं, जिससे लोगों को और परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सावन के दूसरे बुधवार यानी आज इन उपायों से करें गणेश जी को खुश

कोलकाताः गणेश जी को बुद्धि के देवता माना जाता है। उनकी पूजन से हर तरह के विघ्न और बाधाएं दूर होती हैं। श्री गणेश बहुत आगे पढ़ें »

ऊपर