टेस्टिंग के लिये कोई इंटरेस्टेड नहीं, न करने वाले और न कराने वाले

आउट्राम घाट पर कोरोना टेस्टिंग न के बराबर
कोविड सेंटर तक नहीं पहुंच रहे हैं लोग
सिंकी सिंह
कोलकाता : कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं, इसके बावजूद गंगासागर मेले में जाने वाले श्रद्धालुओं का हौंसला कम नहीं हुआ है। यह हम नहीं कह रहे हैं, आउट्राम घाट का नजारा कुछ ऐसी ही तस्वीरों को बयां कर रहा है। श्रद्धालुओं को कोरोना का डर सता रहा है, ऐसे में वे मास्क तो जरूर पहन रहें है लेकिन प्रशासन की ओर से तैयार किये गये कोविड सेंटरों में जाने से कतरा रहे हैं। दूसरी ओर कोलकाता नगर निगम की ओर से कोविड सेंटर खोल तो दिये गये हैं लेकिन सेंटरों में टेस्टिंग की संख्या काफी कम है। कोविड सेंटर में बैठे डॉक्टरों का कहना है कि कोविड सेंटरों में सभी व्यवस्थाएं हैं, इसके बावजूद लोग नहीं आ रहे हैं। ऐसे में एक दिन यानी मंगलवार को महज 17 लोगों की ही टेस्टिंग आउट्राम घाट पर हुई है। गौरतलब है कि आउट्राम घाट पर हर रोज हजारों की संख्या में श्रद्धालु आ रहे हैं लेकिन टेस्टिंग के प्रति कोई इंटरेस्टेड नहीं है।
आउट्राम घाट पर कोरोना टेस्टिंग न के बराबर
आउट्राम घाट पर कोलकाता नगर निगम की ओर से कोरोना टेस्टिंग के लिये सेंटर खोला गया है, ताकि यहां आने वाले लोगों का कोरोना टेस्ट आसानी से हो सके लेकिन वहां के डॉक्टरों ने बताया कि टेस्टिंग न के बराबर है। मंगलवार को महज 17 लोगों की टेस्टिंग हुई थी जिनमें एक ही व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया गया था जिसे होम आइशोलेसन में भेज दिया गया है। निगम सूत्रों की मानें तो तीन जगहों पर यानी सियालदह स्टेशन, बंगबासी व आउट्राम घाट पर कोरोना टेस्टिंग हो रही है। इस वजह से आउट्राम घाट पर टेस्टिंग कम हो रही है।
कोविड सेंटर तक नहीं पहुंच रहे है श्रद्धालु
आउट्राम घाट पर तैयार किये गये को​विड सेंटरों तक श्रद्धालु नहीं पहुंच पा रहे हैं। डॉक्टरों का कहना है कि लोग आना नहीं चाहते हैं तो उनके साथ जबरदस्ती नहीं की जा सकती है। वहीं श्रद्धालुओं का कहना है कि टेस्टिंग करने से कोई फायदा नहीं है। टेस्टिंग कराने गये और संक्रमित हुए तो फिर गंगासागर स्नान करने नहीं जा सकेंगे। गौरतलब है कि आउट्राम घाट पर कई राज्यों से लोग आ रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

एसएससी के पूर्व सलाहकारों की जमानत अर्जी खारिज

कोलकाता : एसएससी के दो पूर्व सलाहकार शांतिप्रसाद सिन्हा (एसपी सिन्हा) और अशोक साहा 7 दिनों के लिए सीबीआई की हिरासत में रहेंगे। सीबीआई के आगे पढ़ें »

ऊपर