अलीपुर कोर्ट घोटाला कांड के अभियुक्त को जमानत नहीं

जिला जज के आदेश पर नाजिर ने दर्ज करायी थी एफआईआर
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : अलीपुर के स्पेशल कोर्ट के अतिरिक्त सेशन जज ने अलीपुर कोर्ट घोटाला कांड के अभियुक्त की जमानत याचिका खारिज कर दी। अलबत्ता हाई कोर्ट में मुचलका देने के बाद गिरफ्तारी से 22 दिसंबर तक के लिए राहत मिल गई थी। यहां गौरतलब है कि अभियुक्त ने गिरफ्तारी से राहत पाने के लिए सुप्रीम कोर्ट से लेकर हाई कोर्ट तक में गुहार लगायी थी पर मायूसी ही हाथ लगी थी।
एडवोकेट शिबांगी चट्टोपाध्याय ने यह जानकारी देते हुए बताया कि अलीपुर जज कोर्ट में लाखों का घोटाला किया गया था। जिला जज के आदेश पर नाजिर ने एफआईआर दर्ज करायी थी और स्पेशल कोर्ट में मामला दर्ज किया गया था। इस मामले के चार अभियुक्तों में से स्वप्ना चौधरी अंतरिम जमानत पर हैं, गौतम राय को जमानत मिली हुई है और अनिरुद्ध राय जेल हिरासत में हैं, पर चौथा अभियुक्त रजत सिन्हाराय एक अर्से से फरार चल रहा था। उसके खिलाफ स्पेशल कोर्ट ने गिरफ्तारी का वारंट जारी कर रखा था। रजत सिन्हाराय की तरफ से हाई कोर्ट में अग्रिम जमानत के लिए अपील की गई थी। जस्टिस तीर्थंकर घोष ने अग्रिम जमानत देने से इनकार करते हुए कहा कि अभियुक्त को अलीपुर कोर्ट में आत्मसमर्पण करना पड़ेगा। उनके एडवोकेट ने कहा कि अभियुक्त 22 दिसंबर को अदालत में आत्मसमर्पण करेगा और तब तक के लिए गिरफ्तारी पर रोक लगा दी जाए। जस्टिस घोष ने गिरफ्तारी पर स्टे तो लगा दिया पर यह भी स्पष्ट कर दिया कि अगर इस मुचलके पर अमल नहीं किया जाता है तो कोर्ट सख्त कार्रवाई करने से परहेज नहीं करेगा। बहरहाल रजत सिन्हाराय ने 21 दिसंबर को स्पेशल कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया तो एडिशनल सेशन जज कल्लोल चट्टोपाध्याय ने उसे 24 दिसंबर तक के लिए जेल हिरासत में भेजे जाने का आदेश दिया। इसके बाद 24 दिसंबर को सभी अभियुक्त अदालत में हाजिर हुए तो अतिरिक्त सेशन जज ने रजत सिन्हाराय की जमानत य‌ाचिका खारिज करते हुए सभी अभियुक्तों को 28 जनवरी तक के लिए जेल ‌हिरासत में भेजे जाने का आदेश दिया। इस मामले में मुख्य पीपी नवकुमार घोष ने जमानत याचिका का विरोध करते हुए कहा कि अगर जमानत दी जाती है तो मामले की जांच प्रभावित होगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

रात में कई घंटों तक नहीं मिला कोई साधन…तो घर जाने के लिए चुरा ली सरकारी बस

अमरावती: आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले में एक अजीब मामला सामने आया है। यहां पर एक शख्स को देर रात घर जाने के लिए कोई साधन आगे पढ़ें »

ऊपर