न्यू गरिया-एयरपोर्ट मेट्रो कॉरिडोर : आधुनिकता में बेजोड़ होंगे स्टेशन

बंगाल की कला व संस्कृति की भी दिखेगी झलक
एस्कलेटर से लेकर लिफ्ट का काम जोरों पर
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः न्यू गरिया (कवि सुभाष)-एयरपोर्ट (विमानबंदर) मेट्रो स्टेशन की परियोजना अपने आप में आधुनिकता की बेनजीर होगी। इन दिनों मेट्रो परियोजना पर तेजी से काम चल रहा है। पहले चरण के तहत शुरुआती स्टेशनों पर एस्कलेटर, लिफ्ट सहित अन्य आधुनिकतम परिसेवा को दुरुस्त किया जा रहा है। रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) के अधिकारी भी परियोजना को रफ्तार देने में काफी सक्रियता व सजगता बरत रहे हैं। दरअसल कोरोना वायरस महामारी का असर बड़े पैमाने पर परियोजना पर पड़ा था। काम की गति भी एक समय धीमी हो गई थी। हालांकि अब परियोजना काफी तेज गति से चल रही है। सभी प्रकार के प्रोटोकॉल का पालन करके मेट्रो स्टेशनों का काम हो रहा है। एक आरवीएनएल अधिकारी ने कहा कि पहले चरण के लिए काम काफी जोरों पर है। कुछ जगहों पर अड़चन भी है। हालांकि उसे दूर करने का प्रयास किया जा रहा है। ऐसे में यदि सब कुछ सही रहा तो अगले साल तक पहला चरण शुरू किया जा सकेगा।
बंगाल की कला व संस्कृति को दर्शाते हुए स्टेशनों को सजाया व संवारा जा रहा है। बंगाल की कला की झलक आपको स्टेशन परिसर में प्रवेश करते ही नजर आ आएगी। ऐसे में जब मेट्रो परियोजना शुरू हो जाएगी, तो फिर यह आम यात्रियों के लिए आकर्षण का केंद्र साबित होगा।
ज्यादातर एलिवेटेड स्टेशन शामिल
मेट्रो परियोजना में ज्यादातर स्टेशन एलिवेटेड (ऊपरी तल) के ही हैं। हालांकि एक स्टेशन सर्फेश व एक अंडरग्राउंड भी होगा। कुल 24 स्टेशन परियोजना के तहत मौजूद हैं।
पहले चरण में 5.4 कि.मी. की होगी यात्रा
मेट्रो परियोजना के पहले चरण में कुल 5.4 कि.मी. की यात्रा लोग कर सकेंगे। हालांकि कुल परियोजना तकरीबन 32 कि.मी. है जो कि एयरपोर्ट तक होगी। न्यू गरिया (कवि सुभाष), सत्यजीत रे (हाईलैण्ड पार्क), ज्योतिंद्रनाथ नंदी (मुकुंदपुर), कवि सुकांत (कालिकापुर), हेमंत मुखर्जी (रूबी तक) तक मेट्रो पहले चरण में रफ्तार भरेगी।
इस पर भी नजर
कुल परियोजना-32 कि.मी.
पहला चरण-5.4 कि.मी.
कुल मेट्रो स्टेशन-24
पहला चरण-5 मेट्रो स्टेशन
एलिविटेड-22
अंडरग्राउंड-1
सर्फेश-1

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

मिनी भारत है भवानीपुर, यहीं से शुरू होगी दिल्ली की लड़ाई : ममता

कहा : निष्पक्ष चुनाव हुआ होता तो 30 सीट भी न जीत पाती भाजपा 6 महीने में विधायक बनना जरूरी, इसके बिना सीएम पद उचित नहीं लोगों आगे पढ़ें »

ऊपर