प्रवासी श्रमिकों के घर वापसी की खुशी दिखा रहा नाकतल्ला

कोलकाता : कोरोना महामारी ने प्रवासी श्रमिकों की नौकरी छुड़ायी तो अच्छे-खासे श्रमिकों ने इस दौर को देखते हुए घर वापसी का मन बना लिया। अपने राज्य अपने घर आने की खुशी क्या होती है यह दिखाने की कोशिश की गयी है नाकतल्ला उदयन संघ की तरफ से। इस बार इसी थीम के आधार पर पूरे पंडाल को तैयार किया गया है। चूंकि कोरोना के नियमों को मानते हुए पंडाल को खुला रखना है इसलिए पंडाल को बेंत से आकाश का रूप दिया गया है जो पूरी तरह खुला है। इसी के बीच मां दुर्गा विराजित हैं। प्रवासियों की ट्रेन आकर्षण का केंद्रपंडाल में प्रवेश करते ही दर्शकों को प्रवासियों से भरी ट्रेन के दर्शन होंगे। जो दुर्गापूजा के मौके पर अपने राज्य वापस लौटे हैं ताकि पूजा के उत्सव में भाग ले सकें। इसके जरिये एक खुशी का माहौल दिखाने की कोशिश की गयी है।

क्लब का सराहनीय कदम
नाकतल्ला उदयन संघ की तरफ से बप्पादित्य दासगुप्ता ने बताया कि चूंकि इस साल कोरोना का कहर है, जिसमें कोलकाता नगर निगम और कोलकाता पुलिस के कई लोगों की जान गयी है। उनमें से 10 वॉरियर्स को चुना गया है जिनके 1-1 बच्चों की पूरी शिक्षा का जिम्मा क्लब ने उठाया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

लोकसभा में निर्बाध चल रही है सदन की कार्यवाही

नयी दिल्ली : लोक सभा में निर्बाध चल रही है सदन की कार्यवाही, स्पीकर बिरला के नेतृत्व में लोकसभा में चला रहा प्रश्नकाल। स्पीकर बिरला आगे पढ़ें »

ऊपर