जगदल में तृणमूल कर्मी की हत्या को लेकर तनाव, आपसी रंजिश का अंदेशा

जगदल : जगदल थाना इलाके में जहां छठ पर्व को लेकर लोग तैयारियों में जुटे हैं वहीं फिर एक बार बुधवार की रात इलाके में एक हत्या हो गयी जिससे इलाके के लोग आतंकित हो उठे। रात को कई घंटों तक हुई बमबारी व गोलीबारी ने इलाके को अशांत कर दिया हालांकि पुलिस ने वहां पहुंचकर परिस्थिति को नियंत्रित किया। मृतक आकाश प्रसाद (21) तृणमूल नेता सोमनाथ श्याम का करीबी बताया जाता है।

आकाश के परिवार का आरोप है कि पूरी योजना के साथ आकाश को लक्ष्य कर मार डाला गया है और इसे सामूहिक पिटायी से मौत व अन्य तरह की घटना साबित करने की कोशिश की जा रही है। जहां परिवार का आरोप है कि बजरंग परिषद इलाके के निवासी तृणमूल समर्थक अशोक साव व उसके परिवारवालों ने किसी दुश्मनी के कारण आकाश की हत्या की है वहीं इस मामले में सोमनाथ श्याम का कहना है कि इलाके में दो गुटों के बीच विवाद के दौरान कुछ बाहरी युवक जो कि भाजपा आश्रित समाजविरोधी हैं, उन्होंने आकाश को चापड़ व अन्य धारदार हथियारों से प्रहार कर मौत के घाट उतार दिया। यह भाजपा की सोची-समझी साजिश है।

भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के इशारे पर यह सब किया गया है ताकि त्योहार पर इलाके को अशांत कर दिया जाये। साजिशवश इसे तृणमूल का आपसी द्वंद्व बताया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोई तृणमूल समर्थक हो ही सकता है मगर वह कर्मी हो यह जरूरी नहीं है। आकाश के परिवार के साथ हम खड़े हैं और उसके हत्यारों की अविलंब गिरफ्तारी की मांग करते हैं।

वहीं इस मामले में भाजपा का हाथ होने से इनकार करते हुए सांसद अर्जुन सिंह ने इसे समाजविरोधियों के आपसी द्वंद्व का नतीजा बताया। वहीं भाजपा नेता व पूर्व पालिका चेयरमैन सौरभ सिंहने कहा कि आकाश प्रसाद आपराधिक प्रवृत्ति का युवक था। गत रात इलाके में वह एक दुकानदार को हथियार की नोंक पर धमका रहा था तभी इलाके के लोग उत्तेजित हो उठे और उन्होंने सामूहिक पिटायी शुरू कर दी, संभवतः इसी में आकाश की मौत हो गयी।

इलाके में खौफ, परिवारवालों ने कहा-लक्ष्य किया गया था आकाश को

जगदल के पालाघाट इलाके की बात करें तो यहां खौफ का ऐसा मंजर है जहां के स्थानीय निवासी एक हत्या की घटना के बाद से मुंह खोलने को राजी नहीं हैं। कोई कह रहा है कि वे घर पर ही नहीं थे तो कोई कह रहा है कि वह परिवार समेत छठ पूजा के लिए बाजार करने चला गया था। इससे यही साबित होता है कि बुधवार की रात खुलेआम एक हत्या हुई मगर इस पर कोई कुछ नहीं कहेगा।

वहीं आकाश के परिवारवालों ने बताया कि आकाश का छोटा भाई सुजल उस इलाके में घूम-फिर रहा था तभी इलाके के कुछ लोगों ने उस पर टोंट कसा और प्रतिवाद करने पर वे उसे मारने-पीटने लगे। इस पर सुजल ने आकाश को फोन किया तब आकाश अपनी पत्नी को उसके मायके छोड़कर घर लौटा था और फोन मिलते ही वह भी इलाके में पहुंचा। सुजल ने उन्हें बताया कि वे लोग दोनों को पीट रहे थे कि तभी वह किसी तरह से वहां से भाग निकला।

उसके सामने ही आकाश के सिर पर कटारी मारी गयी थी जिससे वह आतंकित हो गया था। उन्होंने कहा कि हत्यारों ने वहां बमबारी भी शुरू कर दी थी ताकि लोगों की भीड़ वहां न पहुंच पाये। इसके कुछ देर बाद ही उन्हें खबर मिली कि आकाश की हत्या हो गयी है। उन्होंने कहा कि वे इंसाफ की मांग करते हैं क्योंकि आकाश की छवि को भी राजनीतिक उद्देश्य से बिगाड़ने की कोशिश की जा रही है।

सभी बिंदुओं पर हो रही है जांच, 1 की हुई गिरफ्तारी

मामले में सीपी मनोज कुमार वर्मा ने कहा कि बुधवार की रात घटी इस घटना से फैले तनाव को देखते हुए इलाके में पुलिस की चाकचौबंद व्यवस्था कर दी गयी। सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है। अब तक एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया है जिसका नाम बंटी है। उससे पूछताछ की जा रही है। आकाश के आपराधिक रिकॉर्ड के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने बताया ​कि इसकी भी जांच हो रही है और जांच के बाद आगे की कार्रवाई होगी।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

टी-20 में ऑस्ट्रेलिया को कड़ी चुनौती देगा भारत, ऑस्ट्रेलिया में 12 साल से सीरीज नहीं हारी टीम इंडिया

कैनबरा : एक दिवसीय श्रृंखला में विकल्पों की कमी के कारण मिली हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम शुक्रवार से शुरू हो रही तीन मैचों आगे पढ़ें »

रेसलिंग वर्ल्ड कप में उतरेंगे भारत के 24 पहलवान

नयी दिल्ली : कोरोना के बीच सर्बिया के बेलग्रेड में 12 से 18 दिसंबर के बीच इंडिविजुअल रेसलिंग वर्ल्ड कप खेला जाएगा। इसमें दीपक पुनिया, आगे पढ़ें »

ऊपर