स्वास्थ्य, पेयजलापूर्ति और सफाई पर जोर देगा निगम

कोलकाता: कोलकाता नगर निगम के प्रशासक फिरहाद हकीम ने 2020-21 का पूर्ण बजट मंगलवार को पेश किया। इसमें उन्होंने कहा कि हमारा फोकस महानगरवासियों को बेहतर परिसेवा देना है। कोशिश होगी कि स्वास्थ्य, पेयजलापूर्ति और सफाई पर जोर दिया जाए।

फिरहाद ने बताया कि कोरोना के कारण निगम चुनाव नहीं कराये जाने की स्थिति में प्रशासक मंडली बनाई गई है। उल्लेखनीय है कि कोलकाता नगर निगम ने 6 महीने का अंतरिम बजट पेश किया था जिसकी मियाद 30 सितंबर को पूरी हो रही है। ऐसे में अगले 6 महीने तक के लिए एक बार फिर कोलकाता नगर निगम की ओर से पूर्ण बजट पेश किया गया।

कोलकाता नगर निगम के प्रशासक फिरहाद हकीम ने 2020-21 के लिए 170.66 करोड़ रुपए के घाटे का बजट पेश किया। नये वित्तीय वर्ष के लिए निगम ने 4127.71 करोड़ की आय करने का लक्ष्य रखा है। दूसरी तरफ महानगर के विकास कार्यों सहित अन्य मद में 4298.37 करोड़ रूपए का खर्च होने का अनुमान लगाया गया है। इसके साथ ही नये वित्तीय वर्ष में सरकार से 2,001.60 करोड़ रुपए का अनुदान मिलेगा। वहीं टैक्स कलेक्शन का लक्ष्य 1,109.34 करोड़ रखा गया है।

जनता पर नहीं दिया गया है कर का बोझ

कोलकाता नगर निगम द्वारा पेश किये गये बजट में महानगर के लोगों के लिये कोई नया कर का बोझ नहीं दिया गया है लेकिन किसी प्रकार की कोई नई घोषणाएं भी नहीं की गई है।

कोविड -19 की वजह से आई राजस्व में कमी

कोविड-19 का असर कोलकाता नगर निगम के पूर्ण बजट पर भी पड़ा है। कोलकाता नगर निगम के प्रशासक फिरहाद हकीम का कहना था कि अगर कोविड महामारी नहीं आती तो लोगों के लिये कई नयी योजनाएं थीं जिस पर हम कार्य नहीं कर पाये हालांकि अगर जनता का साथ रहा तो महानगर के विकास कार्यों में हम ऐसे ही अग्रसर रहेंगे।

स्वास्थ्य व पेयजल और सफाई पर निगम का विशेष जोर

2020-21 बजट के दौरान स्वास्थ्य ,पेय जल व सफाई विभाग पर विशेष जोर दिया गया है। जहां जल विभाग पर 40812.00 लाख रूपये खर्च किये जाएंगे। वहीं स्वास्थ्य विभाग 16347.00 लाख खर्च किया जाएगा। सॉलिड एंड वेस्ट मैनेजमेंट को 60625.00 लाख रूपये आवंटित किया गया है। ताकि जब लोग स्वस्थ रहेंगे तो तभी महानग भी स्वस्थ रह पायेगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

एकता दिवस समारोह में मोदी ने साधा विपक्ष पर निशाना

कहा-पुलवामा हमले में भी अपना राजनीतिक स्वार्थ खोज रहा था विपक्ष केवड़िया (गुजरात) : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने गुजरात दौरे के दूसरे दिन शनिवार को आगे पढ़ें »

कमलनाथ बोलेः ‘स्टार प्रचारक न कोई पद है, न दर्जा’

भोपालः मध्यप्रदेश में 28 सीटों के लिए उपचुनाव होने से पूर्व यहां राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है। इसी बीच कई पार्टियों में उथल-पुथल मची हुई आगे पढ़ें »

ऊपर