मुकुल की जुबान फिसली, कहा – तृणमूल हारेगी उपचुनाव

त्रिपुरा में किसी ने भी अभिषेक का नहीं किया अपमान
मुकुल के बयान से राजनीति गरमायी
सन्मार्ग संवाददाता
नदिया : भाजपा के टिकट से कृष्णनगर उत्तर विधानसभा सीट फतह करने के बाद तृणमूल में घर वापसी करने वाले राज्य के वरिष्ठ नेता मुकुल राय के एक बयान से राजनीतिक जगत में खलबली मच गई है। मुकुल राय की जुबान फिसल गयी और उन्होंने कह डाला कि उपचुनाव में तृणमूल हारेगी। त्रिपुरा में सांसद अभिषेक बनर्जी की गाड़ी पर बरसे डंडे वाले मामले पर भी मुकुल ने कहा कि राजनीति में यह सब चलता रहता है। मुकुल राय के इन बयानों ने हलचल मचा दी है। कुछ लोगों का मानना है कि राय का बयान अर्थपूर्ण है तो कुछ इस विषय को ‘स्लीप ऑफ टंग’ बता रहे हैं।
क्या है पूरा मामला
शुक्रवार को सांगठनिक कार्यक्रम के तहत मुकुल राय कृष्णनगर पहुंचे। मुकुल राय ने पहले बेलडांगा तृणमूल पार्टी कार्यालय में कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। उसके बाद वे कृष्णनगर पालिका भवन गये। भूतपूर्व पालिका प्रधान असीम साहा ने उन्हें गुलदस्ता भेंट किया। इस मौके पर मुकुल राय ने उपचुनाव कराने के लिए सत्तारूढ़ पार्टी की तत्परता के प्रसंग पर कहा कि भाजपा के प्रतिनिधि के रूप में इतना कह सकता हूं कि अगर उपचुनाव हुआ तो कृष्णनगर से तृणमूल कांग्रेस पराजित होगी और भारतीय जनता पार्टी स्वत:स्फूर्त प्रतिष्ठित होगी, हालांकि बगल में बैठे असीम साहा ने बयान को सुधारकर तृणमूल कांग्रेस की जीत का दावा किया। त्रिपुरा दौरे पर अभिषेक बनर्जी की गाड़ी पर हमले के वीडियो पोस्ट के प्रसंग पर मुकुल राय ने कहा कि कुछ लोगों की गलत व्याख्या है, त्रिपुरा में किसी ने भी अभिषेक बनर्जी का अपमान नहीं किया है। गाड़ी पर डंडा चलाने जैसी घटनाएं साधारण हैं, राजनीति में ऐसा चलता है। बंगाल की राजनीति में ममता बनर्जी का कोई विकल्प नहीं होने का दावा करते हुए मुकुल राय ने कहा कि पार्टी अगर त्रिपुरा की जिम्मेवारी उन्हें सौंपती है तो उसका निर्वाह करूँगा पर उससे पहले पार्टी को तय करना पड़ेगा कि उनसे कौन सा काम लेना चाहती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

गंगा को प्रदू्षित होने से बचाना है : फिरहाद

अब तक लगभग 1700 मूर्तियों का किया गया विसर्जन कोविड प्रोटोकॉल को मानते हुए किया जा रहा है प्रतिमाओं का विसर्जन कोलकाता : दुर्गापूजा खत्म होने के आगे पढ़ें »

ऊपर