श्यामपुकुर में व्यक्ति के सड़े गले शव के साथ रह रही थी मां और बेटी

दो महीने पहले वृद्ध की मौत होने की संभावना
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : घर के अंदर पति के सड़े गले शव के साथ एक महिला और और उसकी बेटी रह रही थी। घटना श्यामपुकुर तानांतर्गत नियोगी घाट स्ट्रीट की है। मृतक का नाम दिग्विजय घोष (78) है। वह महानगर के एक नामी रेस्तरां के रिटायर्ड कर्मचारी थे। वह अपनी बेटी और पत्नी के साथ घर में रहते थे। पुलिस ने वृद्ध के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। वहीं उनकी बेटी और पत्नी की मेडिकल काउंसिलिंग भी करायी गयी है।
क्या है पूरा मामला
जानकारी के अनुसार मंगलवार की रात 10 बजे नियोगी घाट स्ट्रीट दो मंजिला मकान से दुर्गंध आने पर लोगों ने सूचना स्थानीय वार्ड को ऑर्डिनेटर और पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पाया कि दिग्व‌िजय के घर के मुख्य दरवाजे पर अदंर से ताला मारा हुआ है। काफी आवाज देने के बाद भी कोई नीचे नहीं उतर रहा है। ऐसे में पुलिस जब ताला तोड़कर अंदर घुसी तो दूसरे तल्ले पर एक कमरे के अंदर मां और बेटी को दिग्व‌िजय के सड़ गले शव के साथ पड़ा हुआ पाया। पुलिस के अनुसार दोनों ही मां-बेटी कुछ कह नहीं रही थी। उनके बयान में असंगतियां पायी गयी है। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। पुलिस का प्राथमिक अनुमान कई दिनों पहले ही वृद्ध की मौत हो चुकी है। वहीं दोनों मां- और बेटी मानसिक रूप से बीमार है। उनके दूसरे रिश्तेदारों को घटना की जानकारी दे दी गयी है। वहीं दूसरी ओर स्थानीय लोगों ने बताया कि दिग्व‌िजय मकान में अपनी पत्नी और बेटी के साथ रहते थे। बेटी की मानसिक बीमारी के कारण शादी के बाद पति ने छोड़ दिया था। ऐसे में वह मां-बाप के साथ ही रहती थी। बीते कुछ महीनों से वृद्ध बीमार चल रहे थे। घर के लोग भी ज्यादा बाहर नहीं निकलते थे इसलिए लोगों को पहले कुछ संदेह नहीं हुआ। इस बीच मंगलवार की रात दुर्गंध आने पर लोगों ने सूचना पुलिस को दी। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

घर में लड़ाई-झगड़ा खत्म करने के लिए करें ये 5 उपाय, मिलेगी शांति

कोलकाता : आज के समय अधिकतर घरों में ग्रह कलह या लड़ाई झगड़े होना आम बात हो गई है। घरों होने वाले यह इन झगड़ों आगे पढ़ें »

ऊपर