महानगर में 200 से अधिक डॉक्टर कोविड संक्रमित

24 घण्टे में एसएसकेएम में डॉक्टर सहित 26 कोविड संक्रमित
तीन दिन में मेडिकल में 169 नर्स, डॉक्टर व अन्य में कोविड
स्वास्थ्य व्यवस्था चरमराने की आशंका
स्वास्थ्य विभाग ने ठोस उपाय करने के दिए निर्देश
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः राज्य में कोविड का असर जारी है। लगातार नए मामले बढ़ रहे हैं। इस बीच बढ़ते मामलों ने डॉक्टर के साथ ही साथ स्वास्थ्यकर्मियों को भी अपनी चपेट में लिया है। सूत्रों की मानें तो विभिन्न अस्पतालों में 200 से अधिक डॉक्टर हाल के दिनों में कोविड संक्रमित मिले हैं। इस कारण स्वास्थ्य व्यवस्था के भी प्रभावित होने की संभावना है। एसएसकेएम में भी अब कोरोना वायरस का असर नजर आ रहा है। संक्रमित डॉक्टरों की संख्या अचानक यहां भी बढ़ी है। पिछले 24 घंटे में 26 डॉक्टर यहां संक्रमित मिले हैं। अस्पताल सूत्रों की मानें तो 3 दिन में 50 से ज्यादा की संख्या में डॉक्टरों के साथ ही अन्य कर्मी भी संक्रमित हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक, स्थिति इतनी चिंताजनक है कि एसएसकेएम अधिकारियों ने आपात बैठक कर आइसोलेशन की अवधि को घटाकर 5 दिन करने का फैसला किया है। कार्डियोलॉजी, सीटीवीएस, ईएनटी, गायनोकोलॉजी समेत कई विभागों के चिकित्सकों की कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। कोरोना मरीजों का इलाज करने वाले डॉक्टर और स्वास्थ्य कर्मी बुरी तरह प्रभावित हो रहे हैं। अब सवाल यह है कि सेवा कौन प्रदान करेगा? इसी क्रम में डॉ.आर. अहमद डेंटल कॉलेज व अस्पताल, चित्तरंजन सेवा सदन, एनआरएस, आर.जी.कर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 7 दिन में सैकड़ों डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मी प्रभावित हुए हैं। इसके चलते यहां छात्रावास खाली करने को कहा गया है। इसके अलावा कोलकाता मेडिकल कॉलेज व अस्पताल में भी पिछले तीन दिनों में 169 स्वास्थ्य कर्मी, नर्स व डॉक्टर पॉजिटिव मिले हैं। हालांकि अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि यह संख्या 14 ही है। वेस्ट बंगाल डॉक्टर्स फोरम की ओर से बताया गया है कि कई अस्पतालों में जूनियर डॉक्टर से लेकर सीनियर डॉक्टर कोविड संक्रमित हुए हैं। हम हर परिस्थिति पर नजर रख रहे हैं। आरजी कर के छात्रावास में भी स्वास्थ्य कर्मियों को आइसोलेशन में रखने की व्यवस्था की गई है। सूत्रों की मानें तो कई अस्पताल डॉक्टरों की कमी के संकट में हैं। इस बीच स्वास्थ्य विभाग ने अस्पतालों में चिकित्सा परिसेवा को सामान्य रखने के लिए ठोस प्रबंध करने के दिशा-निर्देश जारी किए हैं।
प्रभावितों के कुछ आंकड़े
अस्पताल-डॉक्टर-स्वास्थ्य कर्मी
चित्तरंजन सेवा सदन-35-12
आरआईओ-20-00
सीएनएमसीएच-7-2
एसएसकेएम-26-00
केएमसीएच-14-2
आर.अहमद डेंटल-26-2
(नोट-केवल कुछ निश्चित आंकड़े, इसमें बदलाव संभव)

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग: भारत में मिला ओमिक्रॉन का नया वैरिएंट BA-2

नई दिल्ली: दुनियाभर में कहर ढा रहे कोरोना के ओमिक्रॉन वर्जन के बीच वायरस के एक और वैरिएंट का खतरा मंडराने लगा है। इस वैरिएंट आगे पढ़ें »

ऊपर