‘मिनी इंडिया जोड़ासांको दंगा नहीं शांति चाहता है’

वार्ड नम्बर 41 और 42 में जनता की राय
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : जोड़ासांको विधानसभा क्षेत्र सही में मिनी इंडिया ही हैं। जोड़ासांको का यह उपनाम एेसे ही नहीं पड़ा, इसकी खास वजह यहां के रहनेवाले लोग हैं, जो बरसों से धर्म, जात-पात से कई उपर हैं इनका आपसी भाईचारा। ठाकुड़बाड़ी जोड़ासांको को खास पहचान देता हैं। टैगोर की जन्मभूमि रह चुके,जोड़ासांको में आज भी उनका आदर्श झलकता हैं। यहां के लोगों के लिए आपसी भाईचारा ही सर्वोपरि हैं। इस बार चुनाव में यहां की जनता का मिजाज क्या है, यह जानने के लिए सन्मार्ग की टीम ने
जोड़ासांको विधानसभा के तहत आने वार्ड नम्बर 41 और 42 के लोगों से बातचीत की। पेश हैं उनसे बातचीत के मुख्य अंश – वार्ड नम्बर 41 के एमजी रोड निवासी मनीष का कहना है कि विकास का काम और आगे ले जाने वाली सरकार चाहिए। हमें विकास चाहिए। धनंजय सिंह का कहना है कि ममता दीदी का काम सराहनीय है। उन्होंने बेहतरीन काम काम किया है। गिरिश कुमार सिंह का मानना है कि इस बार मुकाबला जोरदार होगा, उन्हें लगता है कि भाजपा की सरकार सत्ता में आयेगी। एमजी रोड पर अपना दुकान चलानेवाले रवि अग्रवाल का कहना है कि भाजपा आयेगी तो आच्छा है। व्यपारी संजय झा अपने प्रतिक्रिया में कहा कि हम चाहते है भाजपा आए। अरुण पांडे का कहना है कि जो अच्छा काम कर रही है, हम उन्हें ही चाहेंगे। निशाद आलम का कहना है कि ममता बनर्जी अच्छी कैंडिडेट हैं। लोगों के मुसीबत में हमेशा सबके साथ खड़ी रहती हैं। एम रहमान का मानना है कि ममता सरकार स्कीम जनहित के लिए हैं। एमडी सलाउद्दीन का मानना है कि दीदी हिंदु-मुस्लिम का मॉनोपॉली लेकर नहीं चालती। एमडी रफिक का कहना है कि दीदी के राज में यहां हम सब शांति से हैं। यहां कोई दंगा-फसाद नहीं है। जोड़ासांको के लोग ऐसे ही शांति से रहना चाहते हैं। फुटपाथ में रहनेवाला एम आलम काफी खुश है क्योंकि उसे पांच रुपए में पेटभर खाना मिलता है। पहले कोई सरकार ऐसा सोचा नहीं था। इसलिए आलम दीदी को ही अपने प्रतिनिधि के रुप में देखना चाहते है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

तृणमूल ने फिर 3 चरणों के चुनाव को 1 चरण में कराने की मांग की

सीईओ आरिज आफताब को सौंपा ज्ञापन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः तृणमूल कांग्रेस ने एक बार फिर से कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर राज्य के तीन चरणों के मतदान आगे पढ़ें »

90 ड्राइवरों व गार्ड के संक्रमित होने के बाद लोकल ट्रेनों का संचालन प्रभावित

कोलकाता : पूर्व रेलवे ने मंगलवार को कहा कि 90 ड्राइवरों और गार्ड के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद उसने अभी तक सियालदह आगे पढ़ें »

ऊपर