एयरपोर्ट तक मेट्रो का काम जोरों पर, पहला चरण इसी साल

आरवीएनएल जोरों पर कर रहा कार्य
कुछ जगहों पर जमीन अधिग्रहण संबंधी चुनौतियां बरकरार
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः न्यू गरिया-एयरपोर्ट मेट्रो कोरिडोर का काम काफी जोरों पर चल रहा है। रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) के अधिकारी परियोजना के तहत पहले चरण के इसी साल ट्रायल शुरू होने के ‌लिए आशावादी हैं। हालांकि आम यात्री अगले साल ही मेट्रो का सफर तय कर सकेंगे। इस बीच पहले चरण में भी देखा जा रहा है कि कुछ जगहों पर परियोजना में जमीन अधिग्रहण सहित कुछ चुनौतियां बरकरार हैं। वैसे आधिकारिक सूत्रों की मानें तो इन्हें सुलझाने को लेकर प्रशासनिक स्तर पर बातचीत जारी है। जल्द है इन समस्याओं का समाधान कर लिया जाएगा।
थर्ड लाइ‌न बिछाने का काम जोरों पर, बिजली सप्लाई जल्द
न्यू गरिया-एयरपोर्ट मेट्रो परियोजना के तहत थर्ड लाइन को बिछाने का काम शुरू हो चुका है। कवि सुभाष से लेकर रूबी जंक्शन तक थर्ड लाइन बिछाने के अलावा, आवश्यक बिजली कनेक्शन को जल्द से जल्द पूरा करने को लेकर रेल विकास निगम लिमिटेड (आरवीएनएल) के अधिकारी व कर्मी प्रयासरत हैं। पिछले महीने की शुरुआत में ही न्यू गरिया से रूबी तक 5.4 किलोमीटर मेट्रो रेलवे लाइन पर थर्ड लाइन बिछाने का काम शुरू हुआ था। हालांकि, इस मार्ग के एक हिस्से पर मेट्रो फ्लाईओवर का निर्माण कार्य अभी भी लंबित है। अभिशिक्ता क्षेत्र और बाघाजतिन रेलवे स्टेशन से सटे दो छोटे खंडों में फ्लाईओवर पर अभी काम पूरा होना बाकी है। मेट्रो अधिकारियों को उम्मीद है कि अगले कुछ महीनों में काम पूरा हो जाएगा।
सूत्रों ने बताया कि बाकी मेट्रो रूट के लिए ट्रैक बिछाने का काम पहले ही पूरा हो चुका है। इस बार थर्ड लाइन बिछाने का काम जोरों से शुरू हो गया है। ईस्ट-वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर की तर्ज पर ही यहां भी तीसरी एल्युमीनियम रेल लगाई जा रही है। आरवीएनएल के मेट्रो अधिकारियों का दावा है कि चूंकि एल्यूमीनियम स्टील की तुलना में बिजली का बेहतर संवाहक है, इसलिए थर्ड रेल की उम्र बढ़ जाएगी और रखरखाव का जोखिम बहुत कम हो जाएगा।
आरवीएनएल के सूत्रों ने बताया कि अभिषिक्ता जंक्शन और बाघा जतिन फ्लाईओवर के पास दो खंडों का निर्माण कार्य पूरा होने पर कुछ महीनों में ट्रैक शीटिंग का काम पूरा हो जाएगा। इसके बाद थर्ड लाइन बिछाने का काम शुरू होगा। न्यू गरिया-एयरपोर्ट मेट्रो रूट के पहले चरण में ट्रेन न्यू गरिया से रूबी जंक्शन (हेमंत मुखर्जी) मेट्रो स्टेशन तक चलेगी। मेट्रो अधिकारियों को उम्मीद है कि न्यू गरिया से सटे कवि सुभाष और रूबी से सटे हेमंत मुखर्जी मेट्रो स्टेशन के बीच तीसरी रेल लाइन का काम इस साल के अंत तक पूरा हो जाएगा। इसके बाद सिग्नलिंग सिस्टम का काम शुरू हो जाएगा। अगर सब कुछ ठीक रहा तो मेट्रो अगले साल की शुरुआत में प्रायोगिक तौर पर उस रूट पर काम करना शुरू कर देगी।
एलिवेटेड होगा पहला चरण
न्यू गरिया-एयरपोर्ट मेट्रो कोरिडोर के तहत पहला चरण एलिवेटेड (ऊपर से) होगा। दरअसल कोरोना वायरस महामारी के कारण काम की गति कुछ धीमी हो गई थी। अब फिर से काम ने रफ्तार पकड़ी है। प्रायः पांचों स्टेशन पर ही रूफ, प्लेटफॉर्म शेड, फूटओवर ब्रिज बनाने का काम पूरा हो चुका है।
पहले चरण में शामिल मेट्रो स्टेशन
न्यू गरिया (कवि सुभाष), सत्यजीत रे (हाईलैण्ड पार्क), ज्योतिंद्रनाथ नंदी (मुकुंदपुर), कवि सुकांत (कालिकापुर), हेमंत मुखर्जी (रूबी तक)
कुल मेट्रो परियोजना- 32 कि.मी.
पहले चरण में- 5.4 कि.मी.
पूरी परियोजना में कुल स्टेशनः 24
पहले चरण मेंः 5 मेट्रो स्टेशन

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

1 अगस्त से ATM से पैसे निकालने पर देना होगा ज्यादा चार्ज

नई दिल्ली : एक अगस्त से देशभर में कई बदलाव होने वाले हैं। इनका सीधा असर आपकी जेब और जिंदगी पर पड़ेगा। इसलिए जरूरी है आगे पढ़ें »

लीवर को हेल्दी रखने के लिए पिएं गन्ने का जूस

ब्रेकिंगः बाबुल सुप्रियो ने राजनीति से संन्यास का किया ऐलान

अश्लील वीडियो बनाने व उसे सर्कुलेट करने के मामले में मॉडल व फोटोग्राफर कोलकाता से अरेस्ट

सेमीफाइनल में हारीं पीवी सिंधु, कल ब्रॉन्ज मेडल के लिए खेलेंगी मुकाबला

ब्रेकिंगः घर-घर वैक्सीनेशन को लेकर फिरहाद का बड़ा बयान

ओलंपिक्स में हुई दुर्घटना में अमेरिकी बीएमएक्स रेसर कॉनर फील्ड्स के मस्तिष्क में बहा खून

यूपी गेट पर राकेश टिकैत करते रह गए इंतजार, बिना मिले ही बंगाल लौटी ममता

क्लास 6 में पढ़ने वाले लड़के ने गेम में ₹40,000 गंवाने के बाद की खुदकुशी

कश्मीर में सेना की बड़ी कामयाबी

ऊपर