सियालदह तक मेट्रो की सौगात नए साल में

सियालदह तक मेट्रो शुरू करने की कवायद में जुटा प्रबंधन
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाताः ईस्ट वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के तहत कोलकाता मेट्रो रेलवे कॉरपोरेशन (केएमआरसीएल) ने सियालदह मेट्रो स्टेशन पर नवीनीकरण कार्य में तेजी लाई है। केएमआरसी सूत्रों की मानें तो काली पूजा तक सियालदह मेट्रो स्टेशन का काम पूरा होने की उम्मीद है। कोलकाता मेट्रो रेलवे के जीएम, मनोज जोशी ने कहा कि यात्रियों के लिए एक नए रूप में मेट्रो को खोला जाएगा। सियालदह मेट्रो के सौंदर्यीकरण का काम लगभग पूरा होने की कगार में है और कुछ अंतिम चरण के काम बाकी हैं। दिसंबर तक सुंदरीकरण का काम पूरा हो सकता है। इसके बाद नए साल में यात्रियों के लिए मेट्रो शुरू किए जाने की पूरी संभावना है। केएमआरसी सूत्रों के अनुसार, स्टेशन के ऊपरी गेट से पार्किंग की जगह लगभग पूरी हो चुकी है और स्टेशन क्षेत्र के पास की सड़कों की भी मरम्मत की जाएगी, क्योंकि बचा हुआ निर्माण कार्य पूरा हो गया है।
सबसे व्यस्ततम स्टेशन में शुमार होगा सियालदह मेट्रो
“अंडरग्राउंड और ओवरग्राउंड का काम उम्मीद के मुताबिक चल रहा है। सियालदह मेट्रो स्टेशन के आधुनिकीकरण के साथ, उम्मीद जताई जा रही है कि हजारों यात्री यहां से मेट्रो सेवाओं का उपयोग कर सकेंगे। ”कोलकाता मेट्रो रेल के एक अधिकारी ने कहा कि आने वाले दिनों में सियालदह मेट्रो सबसे महत्वपूर्ण और व्यस्ततम स्टेशन होगा। अधिकारी ने कहा, “मेट्रो स्टेशनों का विकास यात्रियों की सुविधा और सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए किया जा रहा है।”
जमीन से करीब 18.5 मीटर नीचे है मेट्रो स्टेशन
सियालदह मेट्रो स्टेशन जमीन से कम से कम 18.5 मीटर नीचे है। सियालदह स्टेशन के एक तरफ फूलबगान मेट्रो स्टेशन है और दूसरी तरफ एस्प्लानेड मेट्रो स्टेशन है। निर्माण कार्य को संभालने वाले शीर्ष अधिकारियों की मानें तो सियालदह स्टेशन बहुत महत्वपूर्ण होने जा रहा है। जंक्शन के रूप में उपनगर के विभिन्न हिस्सों से लोग अपने गंतव्य के लिए मेट्रो पकड़ने के लिए यहां आएंगे। सियालदह मेट्रो स्टेशन में प्रवेश और निकास के लिए कई छोरों पर कम से कम 9 सीढ़ियाँ हैं, कोलकाता मेट्रो यात्रियों की सुविधा के लिए कुल 18 एस्केलेटर, 26 टिकट काउंटर लगाए गए हैं। मेट्रो स्टेशन में विकलांग लोगों के लिए विशेष टिकट काउंटर और लिफ्ट भी हैं।
मेट्रो स्टेशन में कुल तीन प्लेटफॉर्म हैं। प्लेटफार्मों में से एक को एक द्वीप मंच के रूप में रखा जाएगा, जिसका अर्थ है कि बहुत अधिक भीड़ के मामले में तीसरे मंच का उपयोग किया जाएगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दुर्गापुर अन्नपूर्णा नगर में बमबाजी से हड़कंप

दुर्गापुर: दुर्गापुर थाना क्षेत्र अंतर्गत अन्नपूर्णा नगर इलाके में शनिवार की रात कुछ अज्ञात लोगों द्वारा बमबाजी करने एवं वाहनों में तोड़फोड़ करने से हड़कंप आगे पढ़ें »

ऊपर