ममता का शाह को चैलेंज : अब शुरू होगा खेल

कसा तंज : सिर्फ बुआ – भतीजा कहते हैं, खुद के बेटे के पास इतने रुपये कहां से आये ?
कहा : गृह मंत्री के मुंह से ऐसी भाषा शोभा नहीं देती
बंगाल में शांति के लिए भाजपा को सत्ता में आने से रोकें
कोलकाता : बंगाल की सत्ता के लिए आरम्भ होने जा रहा चुनावी दंगल फिलहाल राजनीतिक दलों के लिए ऐसा अखाड़ा बन गया है जहां नेता एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं। गुरुवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ममता बनर्जी और उनकी पार्टी पर जहां जमकर निशाना साधा वहीं जवाबी हमले में ममता ने भी शाह को खुला चैलेंज दे डाला। ममता ने कहा कि राजनीति में सौजन्यता एकतरफा नहीं होती। भाजपा के समस्त नेता लगातार मुझे अपशब्द कह रहे हैं। अमित शाह का बंगाल में स्वागत है लेकिन जिस तरीके की भाषा का इस्तेमाल वह कर रहे हैं, वह देश के गृह मंत्री के मुंह से शोभा नहीं देती। वह हमेशा बुआ-भतीजा कहते रहते हैं। अमित जी बता सकते हैं आपके बेटे के पास आखिर इतने रुपये कहां से आये ?
ममता ने राज्य की जनता से भाजपा को सत्ता में न लाने की अपील की। उन्होंने कहा कि ‘बंगाल को शांति से रहने दें। भाजपा को राज्य में सत्ता में नहीं आने देना चाहिए। मैं सभी से अपील करती हूं कि बंगाल के सम्मान की रक्षा करें।’ ममता ने एक बार फिर दावा किया कि राज्य में एक बार फिर तृणमूल की ही सरकार बन रही है। ममता कोलकाता में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित कर रही थीं जहां समाज के अलग-अलग क्षेत्रों से आये प्रतिनिधियों ने शिरकत की थी। ममता ने चैलेंज देते हुए कहा ​कि अब जब शुरुआत कर दी गयी है तो खेल शुरू होगा। भाजपा ब्रिगेड ग्राउंड में साथ चाहे तो कांग्रेस और वाम को भी खड़ा कर ले। मैं अकेले गोलकीपर की भूमिका में हूं, देखती हूं कौन कितना गोल कर पाता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल चुनाव में कन्हैया कर सकते हैं प्रचार, ओईशी बनेंगी उम्मीदवार

कोलकाता : विधानसभा चुनाव की तैयारियां सभी राजनीतिक पार्टियां कमर कसकर कर रही हैं। एक तरफ तृणमूल तो दूसरी ओर भाजपा के बीच इस बार आगे पढ़ें »

तृणमूल के घोषणापत्र पर टिकीं निगाहें

कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस इस बार बहुत ही सोच-समझकर अपना घोषणापत्र जारी कर सकती है। सूत्रों के मुताबिक आज मंगलवार को तृणमूल का घोषणापत्र जारी आगे पढ़ें »

ऊपर