हिंसा पर बोलीं ममता, पुरानी तस्वीरें शेयर कर रही है बीजेपी

राज्य के लोगों से की शांति की अपील
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : चुनाव परिणाम के बाद तृणमूल कार्यकर्ताओं पर लग रहे हिंसा के आरोपों को सीएम ममता बनर्जी ने खारिज किया है। ममता बनर्जी ने कहा, बीजेपी की ओर से दंगों की पुरानी तस्वीरें शेयर की जा रही हैं। यह उनकी पुरानी आदत है। कहीं की भी तस्वीर दिखाकर कहते हैं कि बंगाल का है। हमलोग पुलिस से कहते हैं कि तस्वीरों की जांच करे। हालांकि मैं किसी भी तरह की हिंसा पसंद नहीं करती हूं। आखिर बीजेपी ऐसा क्यों कर रही है? बर्दवान में एक तृणमूल कर्मी को मारा गया। सीएम ने कहा कि बड़े बहुमत के साथ जीत के बाद भी हमने राज्य में जश्न तक नहीं मनाया है। साथ ही सीएम ने राज्य के लोगों से शांति की अपील करते हुए किसी तरह की हिंसा ना करने को कहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमलोग जानते हैं कि भाजपा और केन्द्रीय बलों ने काफी परेशान किया है लेकिन हमें शांति बनायी रखनी होगी। अगर किसी तरह की गड़बड़ी होती है तो पुलिस को सूचित करें। हमलोगों को अभी काेविड के खिलाफ लड़ना है।
राज्यपाल ने डीजीपी को बुलाया
विभिन्न जगहों से आ रही हिंसा की खबरों से चिंतित राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने डीजीपी तथा कोलकाता पुलिस कमिश्नर को बुलाया है। राज्यपाल ने इस दिन ट्वीट किया, राज्य के विभिन्न हिस्सों से हिंसा, आगजनी और हत्याओं की कई रिपोर्टों से परेशान और चिंतित हूं। पार्टी कार्यालयों, घरों और दुकानों पर हमले किये जा रहे हैं। गृह मंत्रालय, बंगाल पुलिस और ममता बनर्जी से शीघ्र कार्रवाई के लिए कहा है। राज्य में कानून व्यवस्था के बिगड़ते हालात को लेकर डीजपी को तलब किया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘ऑक्सीजन नहीं खाली मास्क लगा गए डॉक्टर’, मौत से पहले एक्टर का वीडियो

नई दिल्लीः अभिनेता राहुल वोहरा का रविवार को निधन हो गया। वो कोरोना पीड़ित थे और अपना इलाज करवा रहे थे। राहुल की पत्नी ज्योति आगे पढ़ें »

23 जून को नहीं होगा कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव

नई दिल्ली : सोमवार को दिल्ली में कांग्रेस अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी की अध्यक्षता में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक हुई। बैठक में पार्टी ने अध्यक्ष पद आगे पढ़ें »

ऊपर