ममता की हुंकार : मीरजाफरों को माफ नहीं करेगी जनता

जब तक है जान रॉयल बंगाल टाइगर की तरह जीऊंगी
दीदी का चुनावी स्लोगन : हरे कृष्ण हरे-हरे, तृणमूल आबार घरे-घरे
भाजपा के खिलाफ ममता ने तेज किया चुनावी प्रचार
सन्मार्ग संवाददाता
मुर्शिदाबाद : तृणमूल छोड़ भाजपा में गये नेताओं को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मीरजाफर करार देते हुए कहा कि बंगाल की जनता उन्हें कभी माफ नहीं करेगी। ममता मंगलवार को मुर्शिदाबाद में सभा को संबोधित कर रही थीं। उसी दौरान ममता ने कहा कि पार्टी में कुछ चोर नेता थे जिन्होंने जनता के हितों को दरकिनार कर अपनी जेब गरम करने में लगे रहे। इन नेताओं को जब एहसास हुआ कि उनकी चोरी पकड़ी जाएगी और पार्टी उन्हें टिकट नहीं देगी तो अपने काले पैसों को सफेद करने के लिए सभी भाजपा में चले गये। ममता ने भाजपा को निशाने पर लेते हुए कहा कि भाजपा आम जनता की पार्टी नहीं है। भाजपा रसूखों की पार्टी है, जमींदारों की पार्टी है। इस चुनाव में भाजपा के नेता बंटवारे की राजनीति कर रहे हैं। उन्हें पता नहीं कि गुजरात बंगाल में शासन नहीं करेगा बल्कि बांग्ला ही बंगाल में शासन करेगा। यहां तृणमूल ही वापस आयेगी तथा बहुमत से जीतेगी और दिल्ली का लगातार विरोध करेगी। मंगलवार को ममता ने बर्दवान, मुर्शिदाबाद में सभा की जहां उन्होंने भाजपा के खिलाफ चुनावी स्लोगन ‘हरे कृष्ण हरे-हरे, तृणमूल आबार घरे-घरे’ दिया।
अन्य राज्यों की तुलना में बंगाल की कानून और व्यवस्था बेहतर
पश्चिम बंगाल स्वाभिमानी राज्य है। इसे धनबल पर जीतना संभव नहीं है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को मुर्शिदाबाद के बहरमपुर स्टेडियम मैदान में आयोजित जनसभा में यह मंतव्य व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि भाजपा के पास अथाह दौलत है। वोट के वक्त बाहर से भी बड़े-बड़े नेता और भाजपा समर्थक धन यहां लेकर आयेंगे। उनके दिये पैसे से मांस-भात खायें लेकिन मतदान तृणमूल के पक्ष में कर भाजपा को बंगाल से विदायी दें।
बेहतर है यहां कि कानून व्यवस्था
मुख्यमंत्री ने कहा कि तृणमूल में रहने की प्रधान शर्त मां-बहनों की इज्जत है, लेकिन भाजपा शासित राज्यों में मां-बहनें असुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल की कानून और व्यवस्था को भाजपा चुनावी मुद्दा बनाती रही है लेकिन आज पूरा देश देख रहा है कि उत्तर प्रदेश में क्या हो रहा है? उन्होंने कहा कि भाजपा चुनाव के वक्त बंगाल में सांप्रदायिक कार्ड खेलने की कोशिश करेगी। उन्होंने आम जनता से भाजपा के षड्यंत्र का हिस्सा नहीं बनने की अपील की। उन्होंने कहा कि हमें डरा धमका कर कमजोर नहीं किया जा सकता। हमने लंबे समय तक संघर्ष के बाद ही सत्ता का मुंह देखा। हमारे पूरे शरीर में वाममोर्चा के हमले के निशान मौजूद हैं। जो ऐसा समझते हैं कि भाजपा में जाकर वे तृणमूल को कमजोर कर देंगे वे पूरी तरह से गलत हैं। तृणमूल मिट्टी से जुड़ी पार्टी है। इसे समाप्त करना इतना आसान नहीं है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

धन वृद्धि के लिए एक कटोरी पानी का टोटका जरूर अपनाए !

कोलकाता : घर में काम आने वाली छोटी-छोटी चीजें ऐसी होती हैं जिनसे घर में सुख-समृद्धि आती है। ये चीजें बड़े काम की हैं, इनके आगे पढ़ें »

माघ पूर्णिमाः अच्छी किस्मत के लिए आज करें ये काम, घर आएंगी खुशियां

कोलकाताः हिन्दू धर्म में पूर्णिमा तिथि का विशेष महत्व होता है। कहा जाता है कि इस दिन पवित्र नदियों में स्नान करने, दान और ध्यान आगे पढ़ें »

ऊपर