‘कोरोना के लिए जरूरी दवाओं और उपकरणों से हटाएं टैक्स और ड्यूटी’

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर उनसे कोविड-19 महामारी से लड़ने में इस्तेमाल होने वाले उपकरण और दवाइयों पर सभी तरह के करों और सीमा शुल्क में छूट देने का अनुरोध किया। बनर्जी ने मोदी से स्वास्थ्य बुनियादी ढांचा मजबूत करने और कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए उपकरण, दवाओं तथा ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने का भी अनुरोध किया। ममचा ने पत्र में लिखा, ‘बड़ी संख्या में संगठन, लोग और परोपकारी एजेंसियां ऑक्सीजन सांद्रक, सिलेंडर, कंटेनर और कोविड संबंधित दवाएं दान देने के लिए आगे आई हैं। कई दान देनेवालों ने इन पर सीमा शुल्क, एसजीएसटी, सीजीएसटी, आईजीएसटी से छूट देने पर विचार करने के लिए राज्य सरकार का रुख किया है।’ बनर्जी ने कहा, ‘चूंकि इनकी कीमतें केंद्र सरकार के कार्य क्षेत्र में आती है तो मैं अनुरोध करती हूं कि इन सामान पर जीएसटी/सीमा शुल्क और अन्य ऐसे ही शुल्कों तथा करों से छूट दी जाए ताकि कोविड-19 महामारी के कुशल प्रबंधन में उपरोक्त जीवनरक्षक दवाओं और उपकरणों की आपूर्ति बढ़ाने में मदद मिल सके।’ ममता बनर्जी देश में इस संक्रामक रोग को फैलने से रोकने में ”नाकाम रहने के लिए केंद्र पर निशाना साधती रही हैं। वह समान टीकाकरण नीति की मांग लेकर सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा भी खटखटा चुकी हैं। बंगाल का कहना है कि टीका उपलब्ध कराने के लिए केंद्र को तत्काल कदम उठाने चाहिए और ये टीके राज्यों को मुफ्त में दिए जाने चाहिए। इससे पहले शुक्रवार को भी ममता बनर्जी ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखी थी। बनर्जी ने पत्र में आरोप लगाया था कि बंगाल में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद भी राज्य के हिस्से की ऑक्सीजन को केंद्र सरकार अन्य राज्यों में डायवर्ट कर रही है। बंगाल में कोरोना संकट लगातार गहराता जा रहा है। राज्य में शुक्रवार को पहली बार कोरोना वायरस के 19 हजार 216 नए मामले दर्ज किए गए थे और इसकी वजह से 112 लोगों ने दम तोड़ा था। यह एक दिन में आए सर्वाधिक आंकड़े थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

उत्तर बंगाल को नहीं होने देंगे केंद्र शासित केंद्र : ममता

कोलकाता : केंद्र सरकार द्वारा उत्तर बंगाल को केंद्र शासित केंद्र करने की योजना पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जमाकर भड़की है। ममता ने साफ कहा आगे पढ़ें »

मुकुल को बड़ी जिम्मेदारी दे सकती है तृणमूल

बनाए जा सकते है राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी की बढ़ाएंगे सक्रियता कोलकाता : तृणमूल कांग्रेस में लौट कर आये मुकुल रॉय को पार्टी बड़ी आगे पढ़ें »

ऊपर