मालदह दुष्कर्म कांड के दो दिन से अधिक, नहीं हाे पायी पहचान युवती की और दोषियों की

सन्मार्ग संवाददाता,मालदह : मालदह के इंग्लिशबाजार में ‘गैंग रेप’ के बाद युवती को जलाकर मारने की घटना के दो दिन से अधिक बीत गये हैं मगर अब तक पीड़िता की पहचान तक नहीं की जा सकी है और ना ही दोषियों का काेई सुराग पुलिस को मिल पाया है। इस मामले में इंग्लिशबाजार थाना के आईसी के नेतृत्व में 3 सदस्यीय दल तैयार किया गया है।

शुक्रवार की सुबह जिला पुलिस का दल घटनास्थल पर पहुंचा। पुलिस के साथ जांच दल की एक टीम भी पहुंची थी। इसके अलावा जिले के एसपी आलोक राजोरिया समेत कई पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। वहां से जली हुयी घास, मिट्टी के अलावा कुछ अन्य वस्तुओं को संग्रहित कर पुलिस अपने साथ ले गयी। पुलिस का प्राथमिक अनुमान है कि बलात्कार के बाद युवती की हत्या की गयी और उसके बाद सबूतों को मिटाने के लिए उसे जला दिया गया।

नमूना फारेंसिक जांच के लिए भेजा गया

​ एसपी आलोक राजोरिया ने कहा, ‘घटनास्थल से नमूना संग्रह किया गया है जिसे फारेंसिक जांच के लिए भेजा जायेगा। जिस जगह से युवती का शव जले हालत में बरामद हुआ वहां सीसीटीवी की भी व्यवस्था नहीं थी। घटनास्थल से 2 कि.मी. दूर रास्ते के किनारे सीसीटीवी है जिसकी जांच की जा रही है। प्राथमिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट शुक्रवार की शाम पुलिस को मिली है। युवती के सिर के पिछले हिस्से में भी चोट के निशान मिले हैं। पुलिस उसकी शिनाख्त के लिए आसपास के थाना क्षेत्रों में भी पूछताछ कर रही है। मिसिंग डायरी भी खंगाली जा रही है।’ सूत्रों ने बताया कि आज यानी शनिवार को फोरेंसिक टीम बाहर से मालदह आयेगी और पुलिस के साथ घटनास्थल का दौरा करेगी। स्निफर डॉग के जरिये भी जांच की जा रही है।

कई अहम पहलुओं की जांच है बाकी

कोई युवती की हत्या क्यों करेगा ? उसकी पहचान छिपाने की कोशिश क्यों करेगा ? अगर अपराधी उसकी हत्या करना चाहता था तो कर चुका था फिर उसे जलाने की कोशिश क्यों की गयी ? अपराधी उसे कहीं बाहर से लेकर आते तो वहां स्थानीय लोगों की नजर क्यों नहीं पड़ी ? घटनास्थल पर केरोसिन कहां से आया और कौन लाया ? एक व्यक्ति के लिए यह लगभग नामुमकिन है कि एक 20-22 साल की युवती की पहले वह हत्या करेगा और फिर उसके शव को अपनी मर्जी के स्थान तक ले जाकर वहां केरोसिन से उसे जला देगा।

युवती से दुष्कर्म के बाद ही की गयी हत्या

आम बागान में युवती के शव के पास एक पुरुष का जूता बरामद होना। महिला की नीली रंग की ड्रेस की फटी हुई आस्तीन शव के ऊपर थी। प्राइवेट पार्ट्स के क्षतिग्रस्त होने के साथ ही कई जगहों पर चोट और खरोंच के कई निशान पाया जाना जैसी कई बातें हैं जो युवती के साथ सीधे तौर पर दुष्कर्म को दर्शाने के लिए काफी हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीएए और एनआरसी को लेकर मेयर ने बोला हमला

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मेयर और मंत्री फिरहाद हकीम ने सीएए और एनआरसी को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला। रविवार को रक्तदान आगे पढ़ें »

ईस्ट वेस्ट मेट्रोः इस महीने शुरु होने की उम्मीदें बढ़ीं

नए जीएम ने मेट्रो परियोजना का किया निरीक्षण सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः साल्टलेक स्टेडियम से साल्टलेक सेक्टर-5 तक मेट्रो परियोजना के शुरू होने की उम्मीदें एक बार फिर आगे पढ़ें »

ऊपर