चौथे चरण के मतदान से पहले आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई

हल्दिया के व्यवसायी, कोलकाता के 4 ट्रांसपोर्टर यहां छापामारी
एक दर्जन से अधिक साथ छापा, 1 करोड़ नगद जब्त, 10 से अधिक लॉकरों व करोड़ों की संपत्ति का पता चला
सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य में चौथे चरण के मतदान से ठीक एक दिन पहले शुक्रवार को आयकर विभाग ने व्यवसायी व ट्रांसपोर्टरों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। आयकर विभाग को यह सूचना थी कि ट्रांसपोर्टर काफी कैश की लेनदेन कर रहे हैं। इनके अकाउंट्स आदि पर नजर रखने पर वित्तीय गड़बड़ी का पता चला। आयकर को यह भी आशंका थी कि इनका इस्तेमाल चुनाव प्रक्रिया में वोटरों व प्रत्याशियों को गलत तरीके से लाभ पहुंचाने के लिए किया जा सकता है। सूत्र बताते हैं कि आयकर की 50 से अधिक अधिकारियों व क​र्मियों की टीम ने इनके खिलाफ कार्रवाई की है। कुल एक दर्जन से अधिक स्थानों पर छापामारी की गयी जहां से देर रात तक 1 करोड़ रुपये नगद तथा 10 से अधिक लॉकरों का पता चला है। साथ की करोड़ों की अघोषित संपत्ति का भी पता चला है।
विधायक के ट्रांसपोर्टर भाई भी आये आयकर के रडार पर
सूत्रों के मुताबिक इन चारों ट्रांसपोर्टरों में एक ट्रांसपोर्टर का संबंध विधायक से है। वे उत्तर 24 परगना के एक विधानसभा सीट से इस बार चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी के भाई हैं। उसके यहां से भी काफी अहम दस्तावेज जब्त किये गये हैं। वहीं अन्य तीन ट्रांसपोर्टर कोलकाता के हैं। ये छापे श्यामा प्रसाद मुखर्जी रोड, बेंटिक स्ट्रीट सहित बड़ाबाजार के कई इलाकों में स्थित ट्रांसपोर्टरों के यहां हुई है। आयकर सूत्रों का कहना है कि इनके यहां कैश में काम ज्यादा हो रहे थे। पहले से ही नजर थी लेकिन कार्रवाई शुक्रवार को की गयी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सुसाइड प्वाइंट बनता जा रहा है विद्यासागर सेतु

हावड़ा ब्रिज पर रेलिंग लगने के बाद यहां पर लोगों की संख्या बढ़ी पिछले दो महीने में 5 लोगों को पुलिस ने आत्महत्या करने से बचाया सन्मार्ग आगे पढ़ें »

कोरोना संक्रमित पिता के इलाज खर्च जुगाड़ नहीं कर पाया, बेटा कुएं में कूद कर मरा

सन्मार्ग संवाददाता दुर्गापुर : प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित पिता के इलाज का खर्च नहीं उठा पाने से तनावग्रस्त बेटे ने कुआं में कूदकर आत्महत्या आगे पढ़ें »

ऊपर