कोलकाता उत्तर की सात सीटों पर कल महासंग्राम

सन्मार्ग संवाददाता
कोलकाता : राज्य के आठवें तथा अंतिम चरण में कल गुरुवार 29 अप्रैल को 35 सीटों पर मतदान होने हैं। इनमें से कोलकाता उत्तर की 7 सीटों पर चुनाव होंगे। इससे पहले सातवें चरण में कोलकाता दक्षिण की 4 सीटों पर मतदान हुए। अब कोलकाता उत्तर की सात सीटों पर सबकी निगाहें टिकी हुई हैं। ये सात सीटें हैं – चौरंगी, इंटाली, बेलियाघाटा, जोड़ासांको, श्यामपुकुर, मानिकतल्ला, काशीपुर – बेलगछिया।
यहां बता दें कि कोलकाता दक्षिण की तरह कोलकाता उत्तर की भी सातों सीटों पर 2016 में तृणमूल का कब्जा रहा है। वहीं 2019 के लोकसभा चुनाव में भी कोलकाता उत्तर संसदीय क्षेत्र पर तृणमूल कांग्रेस ने जीत हासिल की। यहां एक बार फिर से सुदीप बंद्योपाध्याय सांसद हैं। बहरहाल, इन सातों सीटों पर तृणमूल ने कब्जा जमाने के लिए पूरा जोर लगा दिया है। वहीं भाजपा भी तृणमूल के इस गढ़ में सेंध मारने की पूरी कोशिश में है। इधर, संयुक्त मोर्चा भी कमर कसी हुई है। अब जनता किसे चुनेगी व किसे नकारेगी इसका पता तो 2 मई को ही लगेगा। इन सभी के बीच सबकी निगाहें सातों सीटों पर हैं।
2016 में सातों सीटों पर ऐसे थे नतीजे
चौरंगी – तृणमूल को 55,119, कांग्रेस को 41,903 और भाजपा को 15,707 वोट मिले थे।
इंटाली – तृणमूल को 75841, माकपा 47853 और भाजपा को 14682 वोट मिले थे।
बेलियाघाटा – तृणमूल को 84843, माकपा को 58664 तथा भाजपा को 11516 वोट मिले थे।
जोड़ासांको – तृणमूल को 44,766, भाजपा को 38,476 तथा राष्ट्रीय जनता दल को 15639 वोट मिले थे।
श्यामपुकुर – तृणमूल को 53507, फाॅब को 40352 तथा भाजपा काे 18378 वोट मिले थे।
मानिकतल्ला – तृणमूल को 73157, माकपा को 47846 और भाजपा को 18149 वोट मिले थे।
काशीपुर – बेलगछिया – तृणमूल को 87483, माकपा को 67905 तथा भाजपा को 11485 वोट मिले थे।
सभी सीटों पर मुकाबला जबरदस्त
कोलकाता उत्तर की सभी सीटों पर जबरदस्त मुकाबला माना जा रहा है। हालां​कि कुछ सीटों पर जबरदस्त मुकाबला होगा ऐसा राजनीतिज्ञों का मानना है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अस्पतालों में नहीं मिल रहे हैं डोम

युद्धस्तर पर हो रही हैं नियुक्तियां सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः राज्य में कोरोना वायरस के सेकेंड वेव ने स्वास्थ्य परिसेवा की स्थिति खराब सी कर दी है। आलम आगे पढ़ें »

दो श्मशान और एक कब्रिस्तान बना रही है कोलकाता नगर निगम

कोविड शवों की बढ़ती संख्या बढ़ा रही है प्रशासन की परेशानी सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे है। इस आगे पढ़ें »

ऊपर