महाराष्ट्र में हालात बेहद डरावने : उद्धव

Uddhav Thackeray

मुम्बई : महाराष्ट्र में बेकाबू कोरोना की रफ्तार के बीच राज्य की उद्धव ठाकरे जनता को संबोधित किया। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को जनता को संबोधित करते हुए कहा कि मुंबई में अब तक 970 बिल्डिंग को सील किया गया है। उन्होंने कहा कि बीच में ऐसा लगा कि कोरोना के खिलाफ जंग को हम जीत गये है। इस बीच सीएम उद्धव ठाकरे ने ऐलान किया है कि महाराष्ट्र में कल रात 8 बजे से सख्त पाबंदियां लागू होंगी। कल से ब्रेक द चेन अभियान शुरू होगा। महाराष्ट्र में जरुरी सेवाएं छोड़कर सभी सेवाओं पर रोक लगा दी गई है। सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि15 दिन तक केवल जरूरी सेवाएं जारी रहेंगी। बिना जरूरत कहीं भी आना-जाना बंद रहेगा। पूरे राज्य में धारा 144 लागू रहेगी। बेवजह घर से निकलने पर बैन रहेगा। लोकल और अन्य बसें चलती रहेंगी। ऑटो-टैक्सी की सेवाएं भी जारी रहेंगी। बैंक के कामकाज जारी रहेंगे।

महाराष्ट्र में ऑक्सीजन की किल्लत

सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र में ऑक्सीजन की किल्लत है। ऐसे में केंद्र सरकार सड़क के रास्तों के साथ-साथ हवाई रास्तों से भी महाराष्ट्र में ऑक्सीजन भेजे। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी उद्योगों की मदद करें। उन्होंने पीएम मोदी से वायु सेना के इस्तेमाल की अपील की। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन की प्रक्रिया और तेज करनी होगी। कोरोना वैक्सीनेशन से आने वाली लहर कमजोर होगी। सीएम उद्धव ने जीएसटी रिटर्न टालने और ब्रिटेन मॉडल अपनाने की बात कही ह।

राज्य में टाली परीक्षाएं

राज्य को संबोधित करते हुए सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि राज्य में परीक्षाएं टाली गई हैं। यहां कोरोना वायरस नियंत्रण के बाहर हो गया है। कोरोना की लिए तैयार की गई सारी सुविधाएं कम पड़ने लगी है। हालात बेहद डरावने हो गए हैं। महाराष्ट्र के अस्पतालों में जबरदस्त दबाव है। केंद्र सरकार से हमने और ऑक्सीजन की मांग की है। हम बाकी राज्यों से भी ऑक्सीजन की मांग कर रहे हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शुक्रवार के दिन करें मां लक्ष्मी की पूजा, घर की दरिद्रता होगी दूर

कोलकाता : हर कोई घर में सुख-समृद्धि और धन की वृद्धि के लिए मां लक्ष्मी की उपासना करते हैं l धन की देवी को प्रसन्न आगे पढ़ें »

23 मई तक खड़गपुर आईआईटी में लॉकडाउन

खड़गपुर : आईआईटी-खड़गपुर ने बृहस्पतिवार कोविड-19 के बढ़ते मामलों की वजह से 23 मई तक कार्यालय बंद करने की घोषणा की। इसके सचिव तमाल नाथ आगे पढ़ें »

ऊपर