बंगाल में भी टिड्डी दल का खतरा

हमले की संभावना कम, फिर भी तैयारी पूरी

सन्मार्ग संवाददाता

कोलकाता : उत्तर भारत के विभिन्न राज्यों में तांडव मचा रहे टिड्डियों के दल को बंगाल में अपनी विनाशलीला बरपाने का मौका ना मिले उसके लिए राज्य सरकार पूरी तरह सतर्क है। राज्य के कृषि मंत्री आशीष बनर्जी ने इस बारे में बताया कि टिड्डियों की गतिविधियों पर पूरी नजर रखी जा रही है। विभाग अलर्ट मोड पर है। हालांकि टिड्डी दल के राज्य में प्रवेश करने की संभावना कम ही देखी जा रही है। फिर भी जिस तरह कोरोना के साथ अम्फान की विनाश लीला यहां मची, उससे सजग होना जरूरी है। विभागीय अधिकारियों को कहा गया है कि वह कीटनाशक स्प्रे की व्यवस्था करके रखें। माइकिंग की भी हमारी पूरी व्यवस्था है। इसके अलावा और जो भी सतर्कता रखनी है उसके तमाम उपाय करने का दिशा निर्देश दिया गया है। मंत्री ने बताया कि कृषि एक्सपर्ट्स के अनुसार राज्य का पर्यावरण वैसा नहीं है जैसा इन टिड्डियों को चाहिए, यह हमारे लिए सुकून की बात है। जो भी हो टिड्डी दल के खतरे से निपटने की तैयारी की पूरी है।

राजस्‍थान में तबाही, मध्‍यप्रदेश व महाराष्‍ट्र का रुख

राजस्‍थान में टिड्डी दल ने भारी तबाही मचाई है। यह टिड्डी दल पाकिस्‍तान और ईरान से आया है। पहले यह दिल्‍ली की ओर बढ़ने लगा था, लेकिन उसके बाद हवा का रुख बदलने से यह दिल्‍ली की बजाय मध्‍य प्रदेश और महाराष्‍ट्र की ओर मुड़ गई। उत्‍तर प्रदेश के कुछ इलाकों में भी इसने कहर बरपाया। इनका हमला इतना खतरनाक है कि हवाई जहाज उड़ानेे वाले पायलटों ने भी इनके सामने आने के दौरान भारी परेशानी की बात कही है। इस संबंध में उड्डयन मंत्रालय ने पायलटों को इनके हमले से बचने के लिए परामर्श भी जारी किया है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

मैं गरीबों की मदद कर रहा था, इमरान के मंत्री छुट्टियां मना रहे थे : अफरीदी

इस्‍लामाबाद : शाहिद अफरीदी ने इशारों में इमरान खान सरकार पर निशाना साधा। अफरीदी के मुताबिक, इमरान सरकार में एकता की कमी है और ये आगे पढ़ें »

अक्टूबर तक फिर रिंग में लौट आयेंगे विजेंदर

नयी दिल्ली : पिछले छह महीने से रिंग से दूर भारत के स्टार मुक्केबाज विजेंदर सिंह को अगले तीन महीने में रिंग में उतरने की आगे पढ़ें »

ऊपर