इंटरनेशनल काॅल को घरेलू बनाकर लगाया करोड़ों का चूना

 

कोलकाता : वाॅयस ओवर इंटरनेट तकनीकी का प्रयोग कर इंटरनेशनल काॅल को घरेलू काॅल में तब्दील कर केंद्र सरकार को करोड़ों का चूना लगाने के आरोप में विधाननगर साइबर क्राइम थाने की पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके नाम मोहित सिंह और मो. शादाब बताये जाते हैं। मोहित बेहला का जबकि शादाब करया का रहने वाला है।
कई उपभोक्ताओं ने टेलीकाॅम विभाग में की थी शिकायत
बताया जाता है कि कुछ दिन पूर्व विधाननगर साइबर क्राइम थाने में केंद्रीय टेलीकाॅम विभाग के अधिकारी ने इस बाबत एक शिकायत दर्ज करायी थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि कई उपभोक्ताओं के पास जब इंटरनेशनल काॅल आ रहे हैं, तब उनके काॅलर आइडेंटिफिकेशन गैजेट पर लोकल नंबर डिस्प्ले हो रहा है।
साल्टलेक के सेक्टर फाइव से चल रहा था फर्जीवाड़ा
जांच में पता चला है कि साल्टलेक के सेक्टर फाइव में एक गैरकानूनी टेलीफोन एक्सचेंज आॅफिस स्थापित कर इस फर्जीवाड़े को अंजाम दिया जा रहा था। पुलिस पता लगा रही है कि इस फर्जीवाड़े में कोई और संलिप्त था या नहीं।

वीओआईपी तकनीकी का इस्तेमाल कर स्विच करते थे काॅल
जांच के क्रम में विभाग के अधिकारियों को संदेह हुआ कि कोई व्यक्ति या संस्था गैरकानूनी तरीके से इंटरनेशनल काॅल को वाॅयस ओवर इंटरनेट (वीओआईपी) तकनीकी के माध्यम से घरेलू काॅल में तब्दील कर रहा है। इससे केंद्र सरकार को करोड़ों रुपये का नुकसान हो रहा है। विधाननगर पुलिस के साइबर क्राइम थाने ने इसकी जांच करते हुए मोहित और शादाब को गिरफ्तार किया। उनके कब्जे से लैपटाॅप, इंटरनेशनल काॅल को घरेलू काॅल में तब्दील करने वाला एक स्विच, मोबाइल फोन, कई डेबिट कार्ड, पहचान पत्र बरामद किया गया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं है कोविड-19 का टीका मुफ्त देने का वादा : निर्वाचन आयोग

नयी दिल्ली : आरटीआई कार्यकर्ता साकेत गोखले की शिकायत पर जवाब देते हुए निर्वाचन आयोग ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के लिए भाजपा द्वारा आगे पढ़ें »

लंदन के डॉक्टर ने 31 लाख में खरीदा ‘अलादीन का चिराग’

नई दिल्लीः उत्तरप्रदेश के मेरठ में लंदन से आए एक डॉक्टर ने 31 लाख में 'अलादीन का चिराग' खरीदा। यह सुनने और पढ़ने में भले आगे पढ़ें »

ऊपर